सहेली के लड़के ने गाँधीनगर में चोदा

हैल्लो दोस्तों, मेरा नाम धारा है Hindi Sex Stories Antarvasna Kamukta Sex Kahani Indian Sex Chudai मेरी उम्र 38 साल है और में गाँधीनगर की रहने वाली हूँ। ये हादसा मेरे साथ दिसम्बर 2015 में हुआ था। अब में आपको पहले मेरे बारे में बता दूँ। में दिखने में बहुत सेक्सी औरत हूँ और मेरा फिगर 36-34-38 है। मेरे पति अमेरिका में रहते है तो मुझको भी 24 दिसम्बर को अमेरिका जाना था, मेरे कोई बच्चे नहीं है। मेरी एक फ्रेंड कालोल में रहती है और एक वालोल में रहती है तो मैंने सोचा कि में अमेरिका जाने से पहले अपनी फ्रेंड को मिलकर जाऊं। फिर मैंने बस पकड़ी और कालोल गई तो मैंने अपनी फ्रेंड को फोन करके बता दिया कि में आ रही हूँ। फिर में वहाँ सुबह 10 बजे पहुँची तो मेरी फ्रेंड मुझे लेने के लिए अपनी कार लेकर आई। फिर में और वो हम उसके घर गये, फिर घर जाते ही मैंने उसके लड़के को देखा, ओह माई गॉड वो दिखने में बहुत सुंदर था। फिर मेरा उसके साथ परिचय हुआ और पता चला कि वो अहमदाबाद में कॉलेज की पढाई करता है।

फिर मैंने 12 बजे लंच लिया और जब मेरी फ्रेंड के पति जॉब पर गये थे तो मैंने और उसने बहुत बातें की। फिर शाम को मैंने सोचा कि चलो मेहसाना मेरी एक फ्रेंड रहती है तो उससे मिलकर आते है तो मैंने कार ड्राइव कर ली और हम मेहसाना जाकर आए। अब रात को बहुत अंधेरा हो गया था, तो फिर मैंने अपनी फ्रेंड से कहा कि मुझे कोई अपने घर तक छोड़ सकता है गाँधीनगर तक। फिर मेरी फ्रेंड ने कहा कि मेरा बेटा तुझे घर तक छोड़ आएगा। फिर में और मेरी फ्रेंड का बेटा निकल गये तो रास्ते में उसने मुझसे बातें करना स्टार्ट कर दिया। फिर बातों-बातों में उसने कहा कि आंटी आप बहुत सेक्सी लग रही हो। बाप रे अब ये शब्द सुनकर तो मुझे पहले कुछ आजीब लगा, लेकिन फिर बाद में अच्छा लगा।

Antarvasna Hindi Sex Story  ज़िंदगी कहाँ ले आई तू

फिर मैंने उससे पूछा कि में कितनी सेक्सी लगती हूँ? तो उसने कहा कि वो तो आंटी चेक करना पड़ता है। तो मैंने कहा कि चल कर चेक, तो वो बोला कि अभी नहीं हो सकता, तो मैंने कहा कि तो कब? तो वो बोला कि घर जाकर। फिर उतने में मेरा घर आ गया और हम घर में चले गये। तब रात के 10 बजे थे। फिर मैंने कहा कि चलो अंदर आओ पानी पीकर जाओ, तो वो भी मान गया। फिर मैंने उसे सोफे पर बैठाया और पूछा कि तू मेरी सेक्सी लेवल चेक करने वाला था, तो वो बोला कि में तो ऐसे ही कह रहा था। फिर मैंने कहा कि अरे बेटा ज़रा चेक करना ऐसे क्या करता है, तू अपनी सेक्सी आंटी का इतना भी मन नहीं रखेगा। फिर वो बोला कि आप अपनी आखें बंद करो, तो में मान गयी। फिर उसने मेरे पेट पर अपना हाथ फैरना शुरू कर दिया। फिर उसने धीरे-धीरे मेरी गांड पर अपना हाथ लगाया, क्या बताऊँ वो कितना सेक्सी टच था? फिर उसने अपने एक हाथ से मेरा बूब्स भी दबा दिया।

अब में और वो हम दोनों ही गर्म हो रहे थे। फिर उतने में ही मेरी फ्रेंड का फोन आया कि पहुँचे कि नहीं, तो मैंने उसे बता दिया कि हम पहुँच गये है, लेकिन तुम्हारा बेटा कल सुबह आ जाएगा, क्योंकि गाड़ी पंक्चर हो गई है। फिर उसने अपने बेटे से बात की और कहा कि आज की रात आंटी के घर रुक जा कल सुबह गाड़ी ठीक करवा कर आ जाना। फिर क्या था? फिर हम दोनों खुश हो गये और उसने मुझे अपनी गोद में उठा लिया और बेडरूम में लेकर गया। फिर हम दोनों ने अपने-अपने कपड़े उतार दिए और में उसके लंड को अपने मुँह में लेकर चूसने लगी। वाह क्या मज़ा आ रहा था? फिर उतने में ही मुझे मेरी एक सहेली का फोन आया कि वो मुझसे मिलने के लिए मेरे घर पर आ रही है, लेकिन वो भी सेक्स की भूखी थी। फिर वो मेरी चूत को चाटने लगा, अब में 3 मिनट में ही झड़ गयी थी।

Antarvasna Hindi Sex Story  बहन को लंड से खेलना सिखाया

फिर उसने मेरे बूब्स दबाना शुरू कर दिए और वो अपनी एक उंगली मेरी चूत में डालने लगा और फिर उसने एक झटके में अपना पूरा लंड मेरी प्यासी चूत में डाल दिया और दनादन चोदने लगा। फिर उतने में ही वो भी 10 मिनट में झड़ गया। फिर उतने में ही डोर बेल बजी तो मैंने अपना गाउन पहना और डोर खोला तो बाहर मेरी सहेली आई थी। फिर मैंने उसका उससे परिचय करवाया और मेरी सहेली को इशारे में समझा दिया कि ये भी हमारी लाईन का इंसान है। तो फिर वो बोली कि तो में ट्राई करूँ क्या? तो मैंने कहा कि हाँ जरुर क्यों नहीं? फिर मेरी फ्रेंड और वो रूम में अंदर चले गये। फिर में भी थोड़ी देर के बाद रूम में अंदर चली गयी। वो दोनों एक दूसरे को किस कर रहे थे और अपने कपड़े निकाल रहे थे। फिर मैंने मेरी फ्रेंड की साड़ी उतारने में मदद की और उसकी ब्रा-पेंटी भी उतार दी। फिर क्या था? फिर वो दोनों 69 की पोज़िशन में आ गये और अब वो एक दूसरे का जिस्म चूस रहे थे। फिर वो दोनों एक साथ झड़ गये। दोस्तों ये कहानी आप चोदन डॉट कॉम पर पड़ रहे है।

Antarvasna Hindi Sex Story  Hindi Sex Stories सुप्रिया डार्लिंग

फिर मेरी फ्रेंड ने कहा कि अब मुझे तड़पाओ मत और जल्दी से मेरी चूत को चोद दो। उसकी चूत टाईट थी तो उस लड़के के 2-3 धक्के लगाने पर उसका पूरा लंड उसकी चूत के अंदर चला गया था और वो जोर-जोर से चिल्लाने लगी थी, आह्ह्ह्ह कितना बड़ा है सहा भी नहीं जाता, लेकिन अब वो कहाँ रुकने वाला था, फिर उसने उसे दो बार चोदा। अब उसने उसे घोड़ी बनाकर उसकी गांड में भी अपना लंड डाल दिया था, अब वो रोने लगी थी, लेकिन साथ में मज़ा भी ले रही थी। फिर वो दोनों शांत हो गये, फिर थोड़ी देर के बाद वो उस लड़के को अपना मोबाईल नंबर देकर चली गयी। अब मेरी फ्रेंड के जाने के बाद में फिर से नंगी हो गयी। तब रात के 12 बज रही थी और फिर हम दोनों ने बहुत चुदाई की। उस रात उसने मेरी गांड पर तेल लगाया और मेरी गांड भी मारी। उस रात उसने मुझे इतना चोदा, इतना चोदा की पूछो मत, फिर सुबह होते ही वो उठ गया और मेरे पैर सहलाने लगा।

अब मुझे पता चल गया था कि शो फिर से स्टार्ट करना पड़ेगा तो अब में भी अपनी गांड उछाल-उछाल कर चुदवाने लगी और फिर 1 घंटा चुदाई करने के बाद वो अपने घर जाने के लिए निकल गया। फिर थोड़े दिन के बाद में भी अमेरिका चली गयी ।।