पंजाबी औरत के साथ चुदाई का मजा

हैल्लो दोस्तों, कैसे हो आप सब? मेरा नाम सेम है और में चंडीगढ़ का रहने वाला हूँ। दोस्तों में इस साईट का बहुत पुराना पाठक हूँ और मुझे इसकी सभी स्टोरी बहुत अच्छी लगती है। आज में आपको अपनी रियल दूसरी स्टोरी शेयर करने जा रहा हूँ, जो जून 2014 की है। मुझे शादीशुदा लेडीस के साथ सेक्स करना बहुत अच्छा लगता है क्योंकि वो बहुत मज़े देती है। अब में आपको अपने बारे में बता दूँ, मेरी हाईट 5 फुट 6 इंच है, वजन 60 किलोग्राम, कलर गोरा, क्लीन शेव लंड, साईज़ लगभग 6 इंच लम्बा और 3 इंच मोटा है।

अब में आपको बोर ना करता हुआ सीधा अपनी कहानी पर आता हूँ, मेरी पड़ोसन का नाम मीनू है और वो पंजाब की रहने वाली है, लेकिन वो यहाँ पर सेटल हो गये है, उसकी उम्र 30 साल है, हाईट लगभग 5 फुट 3 इंच है, वो दिखने में पतली है, उसका साईज़ 32-28-30 है, वो दिखने में गोरी है। ये बात जून की है, रात के 8 बजे के करीब में अपने रूम के बाहर बैठा हुआ था, तो उसने मुझे आवाज़ लगाई कि कुछ काम है 1 मिनट के लिए यहाँ आना। फिर में उसके रूम में गया तो उसने मुझसे कहा कि उसका टी.वी नहीं चल रहा है और बच्चे टी.वी चलाने को बोल रहे है, उसके 2 बच्चे है। उसके टी.वी का स्विच का वॉयर निकल गया है, तो क्या आप इसको ठीक कर दोगे? तो मैंने कहा कि हाँ जी में कर दूँगा।

फिर मैंने तार जोड़कर टी.वी चालू कर दिया, फिर में उठने लगा तो उसने कहा कि रूको कोल्ड ड्रिंक पी लो बहुत गर्मी हो रही है। फिर मैंने मौके का फायदा उठाते हुए कहा कि आपका रूम तो कूलर की वजह से काफी ठंडा है, मेरा रूम तो बहुत गर्म है सारी रात नींद नहीं आती है। वो कुछ नहीं बोली और फिर थोड़ी देर के बाद में कोल्ड ड्रिंक पीकर अपने रूम में चला गया। फिर करीब 10 बजे डिनर करने के बाद जब में सोने लगा तो उसने कहा कि अगर आपके रूम में ज्यादा गर्मी है तो आप यहाँ (उसके रूम में) सो सकते हो। अब में तो ये सुनकर शॉक ही हो गया, फिर मैंने बोला कि सच बोल रही हो या मज़ाक कर रही हो, तो वो बोली कि में सच बोल रही हूँ। फिर मैंने उससे पूछा कि आपको कोई प्रोब्लम तो नहीं है ना? तो वो बोली कि नहीं मुझे कोई प्रोब्लम नहीं है। फिर मैंने उसे थैंक्स कहा और बोला कि में थोड़ी देर में आता हूँ, अब में अंदर ही अंदर इतना खुश था कि क्या बताऊँ आपको? आज मेरा उसके साथ सोने का सपना पूरा होने वाला था। फिर करीब 10 बजे में उसके रूम में गया तो तब वो अपने 2 साल के बेटे को सुला रही थी और जैसे ही में बेड पर बैठा तो वो वहाँ से उठकर दूसरी साईड में होकर अपने बेटे को सुलाने लगी।

Antarvasna Hindi Sex Story  बड़ी बहन की चूत चाटी

फिर 10-15 मिनट के बाद जब उसका बेटा भी सो गया तो मैंने उससे बोला कि आप वहाँ क्यों सो गई हो? तो फिर मैंने उसके हाथ पर अपना हाथ रख दिया। तभी वो बोलने लगी कि ये आप क्या कर रहे हो? तो मैंने कहा कि आपको देखकर कंट्रोल नहीं हो रहा है। तो वो कहने लगी कि ये सब ग़लत है तो में उसको फोर्स करके अपनी साईड ले आया और कहा कि बस बूब्स को दबाउंगा और कुछ नहीं करूँगा तो वो मान गई। फिर जब वो मेरे साथ टच हुई तो मुझे ऐसा लगा कि मेरी बॉडी में कोई करंट दौड़ गया हो। फिर मैंने उसको लिप क़िस करना शुरू कर दिया और अब वो भी उम्म्मा आहह करने लगी। फिर मैंने एक हाथ से धीरे-धीरे उसके बूब्स को दबाना शुरू किया। अब वो तो पागल हुए जा रही थी, क्योंकि उसने काफी टाईम से सेक्स नहीं किया था, क्योंकि उसका पति 3 महीने से घर नहीं आया था। फिर उसके बाद मैंने अपना हाथ अंदर डालकर ब्रा के ऊपर से उसके बूब्स को दबाना शुरू किया।

फिर मैंने उसकी कमीज़ को ऊपर करके उसकी ब्रा को भी ऊपर कर दिया, अब उसके 32 साईज़ के बूब्स देखने में बहुत मस्त लग रहे थे, अब 10 मिनट में ही उसके निप्पल एकदम खड़े हो गये थे। फिर मैंने धीरे-धीरे उसके निपल्स को चूसना शुरू किया, उस टाईम मुझे भी कुछ होश नहीं था और उसको भी कुछ होश नहीं था। अब मैंने उसके दोनों निपल्स बारी-बारी चूसते हुए में अपने लेफ्ट हाथ से उसकी चूत को रगड़ने लग गया तो अब उसके मुँह से सिर्फ़ आहह ह्म्‍म्म्मम आआअहह की आवाज निकल रही थी। फिर मैंने उसको किस करते हुए एक हाथ से उसकी सलवार का नाडा (पंजाबी औरते सूट और सलवार ही पहनती है) खोल दिया तो उसने मेरा हाथ पकड़ लिया और हंसते हुए कहने लगी कि ये क्या कर रहे हो? तो मैंने कहा कि आपको प्यार ही कर रहा हूँ तो वो कुछ नहीं बोली। दोस्तों ये कहानी आप चोदन डॉट कॉम पर पड़ रहे है।

Antarvasna Hindi Sex Story  antarvsna Kamukta प्यासी आंटी

फिर जब मैंने उसकी सलवार के अंदर हाथ डाला तो मैंने देखा कि उसने अंदर पेंटी नहीं पहनी है। अब में उसकी चूत को रब करने लग गया, दोस्तों उस टाईम क्या मज़ा आ रहा था? जिसने सेक्स किया हो वही समझ सकता है। फिर मैंने उसकी चूत में उंगली करना शुरू कर दिया और इससे तो वो बहुत मस्त हो रही थी और अब मेरा लंड तो बुरी तरह से तना हुआ था। फिर उसने मुझे बूब्स चूसने को बोला तो मैंने चूसना शुरू किया। फिर वो अपनी आँखे बंद करके अपने हाथ से मेरी शर्ट उतारने लगी। अब शॉर्ट उतारने के बाद वो अपने हाथ से मेरे लंड को आगे पीछे करने लगी। अब हम एक दूसरे को किस करते रहे और चूसते रहे। फिर में उसको बेड पर सीधा लेटाकर उसके ऊपर आ गया, जैसे ही मैंने अपना लंड उसकी चूत पर रखकर रगड़ना शुरू किया, तो आपको क्या बताऊँ? वो नीचे से इतनी गर्म हो चुकी थी जैसे उसके नीचे कोई गर्म चीज रखी हो। फिर मैंने उसका एक निपल अपने मुँह में लेकर एक हाथ से अपना लंड पकड़कर उसकी चूत में डाल दिया, क्या मस्त चूत थी उसकी? मुझे अपना लंड अंदर डालने में बहुत मज़ा आया था। फिर मैंने धीरे-धीरे पूरा का पूरा लंड उसकी चूत में डाल दिया।

अब वो भी अपनी गांड उठा उठाकर मज़े ले रही थी और मुझे भी मज़े दे रही थी। अब 15-20 मिनट तक उसको ऊपर से चोदने के बाद मैंने उसको डॉगी स्टाइल में उल्टा किया। फिर मैंने पीछे से अपना लंड उसकी गांड पर रखकर रगड़ना शुरू किया, लेकिन उसने पीछे डालने से मना कर दिया, तो मैंने भी ज़बरदस्ती नहीं की और अपना लंड उसकी चूत में ही डाल दिया, में एक बात और बताता हूँ उसका वजन सिर्फ़ 42 किलोग्राम है, वो भी मुझे उसने खुद बताया था। अब हमें सेक्स करते-करते करीब 20-25 मिनट हो चुके थे और अब हम दोनों पसीने से बुरी तरह से भीग चुके थे, लेकिन मुझे उस दिन पता नहीं क्या हुआ था? मेरा पानी निकलने का नाम ही नहीं ले रहा था। फिर मैंने उसको एक बार फिर से बेड पर लेटाकर खुद उसके ऊपर आकर चोदा, फिर मैंने उसे डॉगी स्टाइल में भी चोदा।

Antarvasna Hindi Sex Story  ट्रेन में मस्त लंड से चुद गयी

फिर उसके बाद मैंने उसको बेड के एक कोने में लेटाया और खुद बेड से नीचे खड़ा होकर उसकी टाँगे अपने कंधे पर रखकर चोदने लगा। अब करीब 25 मिनट के बाद भी मेरा नहीं निकला तो उसने खुद ही बोल दिया कि में अब बहुत थक चुकी हूँ अब और मत करो। फिर मैंने भी उसकी बात मान ली और हम दोनों नंगे ही एक दूसरे के साथ चिपक कर सो गये। फिर लगभग रात के 2 बजे मेरी नींद खुल गई तो में फिर से उसके बूब्स को दबाने लगा।

फिर वो भी जाग गई तो मैंने उसको रिक्वेस्ट किया और मैंने फिर से उसकी चूत रगड़नी शुरू कर दी। अब मैंने अपनी एक उंगली उसकी चूत में अंदर डालनी चालू कर दी और अब धीरे-धीरे उसकी चूत गीली होने लगी और मैंने अपना पूरा लंड उसकी चूत में डाल दिया। अब पूरे कमरे में ठप-ठप की आवाज़ बहुत मस्त लग रही थी। अब हम फिर से शुरू हो गये थे इस बार 15 मिनट में मेरा पानी निकल गया। जब मेरा निकलने वाला था तो मैंने उससे पूछा कि कहाँ निकालूँ? तो उसने कहा कि अंदर ही डाल दो। फिर जब मेरा पानी निकला तो मुझे ऐसा लग रहा था कि में अपना लंड इसकी चूत से बाहर ही ना निकालूँ। फिर ये सिलसिला 1 महीने तक चलता रहा और अब वो रूम चेंज करके चली गई है ।।

धन्यवाद …