आंटी के साथ अंकल की गांड मारी

हैल्लो दोस्तों, आज में जो कहानी आप लोगों को सुनाने जा रहा हूँ, वो मेरी और एक कपल की है। अब पहले में अपना परिचय दे दूँ। दोस्तों मेरा नाम राहुल है और में गुजरात से हूँ। मेरी उम्र 26 साल है और मेरे लंड का साईज़ 8 इंच है। आज में आपको जो कहानी सुनाने जा रहा हूँ, वो एक सच्ची कहानी है और ये बात आज से करीब एक हफ्ते पहले की है। फिर एक दिन मुझे एक मैल आया, वो एक बड़ी उम्र का कपल का था, वो भी गुजरात से ही थे, उसकी उम्र करीब 45 साल थी। उसने मुझे लिखा कि हम दोनों आपके साथ चुदाई का मज़ा लेना चाहते है, लेकिन ये बात सीक्रेट रहनी चाहिए। फिर उसने अपना फोटो ईमेल किया तो मैंने भी अपना फोटो भेजा। फिर में उनके बताए हुए पते पर गया तो आंटी बहुत मोटी और गोरी थी और अंकल भी मोटे थे, उसका पेट बाहर निकला हुआ था।

फिर दोपहर का खाना खाने के बाद वो मुझे उसके बेडरूम में ले गये। फिर अंकल ने मुझे अपनी बाँहों में लिया और मुझे किस करने लगे। फिर आंटी ने भी मुझे लिप किस किया। तब तक तो मेरा लंड पूरा 8 इंच टाईट हो गया था। फिर अंकल ने अपने कपड़े उतार दिए और उसका लंड करीब 4 इंच का था और अंकल के बदन पर बाल बिल्कुल नहीं थे। फिर उसने मेरे कपड़े उतार दिए और मेरा लंड अपने हाथ में लेकर सहलाने लगे। अब तब तक आंटी ने भी अपने कपड़े उतार दिए थे। उसके बूब्स मोटे-मोटे और बहुत गोरे-गोरे थे, तो में उनको देखते ही चूसने लगा।

Antarvasna Hindi Sex Story 

अब में उसके बूब्स चूस रहा था और अंकल मेरा लंड अपने मुँह में डाल रहे थे, क्या मज़ा आ रहा था? फिर हम तीनों त्रिभुज आसन में हो गये। अब में आंटी की चूत चाटने लगा था और अंकल मेरा लंड चाट रहे थे और आंटी अंकल के लंड को अपने मुँह में डाल रही थी। अब हम तीनों के मुँह से आवाजे आ रही थी आहह, आहह, मजा आ रहा है उहह। तो तभी अंकल ने मेरा मुँह अपने लंड की तरफ किया और में अंकल के लंड को अपने अपने मुँह में लेकर चाटने लगा और आंटी अंकल दोनों मेरे लंड को चूसने लगे। फिर अंकल तेल लेकर आए और फिर आंटी अंकल दोनों ने मेरे पूरे बदन पर किस किया और मेरी बॉडी पर मसाज करने लगे और मेरे लंड पर भी तेल लगाकर मसाज़ किया। फिर अंकल मेरी तरफ अपनी गांड रखकर कुत्ते की तरह हो गये, तो मैंने अपना लंड उसकी गांड पर रख दिया, लेकिन तेल की वजह से मेरा लंड फिसल जाता था। फिर अंकल ने अपना हाथ पीछे करके मेरे लंड को अपने हाथ में लेकर अपनी गांड के छेद पर रख दिया। फिर मैंने एक जोर का धक्का दिया तो मेरे लंड का गुलाबी सुपड़ा अंदर चला गया और फिर मैंने एक और ज़ोर से धक्का दिया तो मेरा पूरा लंड अंकल की गांड में घुस गया। दोस्तों ये कहानी आप चोदन डॉट कॉम पर पड़ रहे है।

Antarvasna Hindi Sex Story  क्या कातिल अदा थी चाची का

अब आंटी आगे से अंकल का लंड चूस रही थी और में अंकल की गांड मार रहा था। फिर थोड़ी देर के बाद अंकल खड़े हो गये और में बेड पर सीधा सो गया। अब आंटी ने मेरे ऊपर आकर मेरा लंड पकड़कर अपनी चूत में डाल दिया और अपनी गांड बाहर निकाली, तो अंकल ने अपना लंड खड़े-खड़े आंटी की गांड में घुसा दिया और धक्के देने लगे। अब मुझे तो बहुत मज़ा आ रहा था और आंटी अपने मुँह से आवाजे निकाल रही थी आह और धक्का लगाओ। अब अंकल भी जोश में आ गये थे और ज़ोर-ज़ोर से धक्के देने लगे थे। अब मेरा लंड तो ऐसे ही अंदर बाहर हो रहा था। फिर अंकल ने अपना सफेद पानी आंटी की गांड में ही निकाल दिया और अपना लंड आंटी की गांड में से बाहर निकाल दिया। अब आंटी मेरे ऊपर ज़ोर-ज़ोर से ऊपर नीचे होने लगी थी और आहह, उहह की आवाजे निकाल रही थी। फिर करीब 15 मिनट की चुदाई के बाद आंटी भी झड़ गयी और मेरा लंड अपने मुँह में लेकर चूसने लगी और अंदर बाहर करने लगी। तो थोड़ी देर के बाद मैंने भी अपना पानी आंटी के मुँह में ही निकाल दिया और फिर हम तीनों ऐसे ही नंगे सो गये ।।

Antarvasna Hindi Sex Story  पति के दोस्त ने बुझाई चूत की प्यास

धन्यवाद …