मौसी की गांड में लण्ड

नमस्ते दोस्तो मेरा नाम नीरज है। यह एक मेरे जीवन की सच्ची घटना है। मुझे इसे करने मे बहुत मजा आया था Hindi Sex Stories Antarvasna Kamukta Sex Kahani Indian Sex Chudai मेरी आयु 22 साल है। मे अब आपका ज्यादा समय नही लेना चाहता हू। अब मै अपनी कहानी चालू करता हूँ। दोस्तों ये कहानी बहुत लम्बी है लेकिन मैंने इसे कम शब्दों में लिखने का प्रयास किया है

मै वैशाली से बहुत प्यार करता था। वो भी मुझे प्यार करती थी। लेकिन वह मेरी मौसी की लडकी थी। मेरी मौसी बहुत मोटी थी।

मेरे मौसाजी के अनेक औरतो के साथ अवैध सम्बन्ध थे और वो गावं मे रहते थे। मै कुछ दिनो के लिए वहां चला गया। मुझे पहुँचने मे शाम हो गई थी। ठन्ड के दिन थे। मेने सभी घरवालो के साथ खाना खाया और मै अपने कमरे मे चला गया और सो गया। जब रात 1 बजे मै पेशाब करके आ रहा था तब मैंने देखा कि मौसी के कमरे की लाईट चालू थी। में खिडकी के पास गया। मैंने देखा कि मौसाजी मौसी को चोद रहे थे। वो उनकी चूत मे अपने लन्ड को अन्दर बाहर कर रहे थे। उनका लन्ड करीब 10 इन्च लम्बा और 3 इन्च मोटा था। मेरा लन्ड भी चड्डी मे हंगामा मचा रहा था। मौसी की चूत में से खून निकल रहा था। मौसाजी उनके बूब्स का दूध पी रहे थे। मौसी दर्द के कारण चिल्ला रही थी, उनके होठो को किस करते और वो चोदते भी रहते। मौसी कह रही थी कि मुझे चोदते रहो। मुझे ऐसा लग रहा था कि मौसाजी का अब वीर्य निकलने वाला था। मौसाजी थोडी मे झड़ गये। उन्होने सारा वीर्य मौसी की चूत मे ही डाल दिया और वो मौसी के ऊपर ही सो गये। अब मै भी सोने चला गया।

Antarvasna Hindi Sex Story  antarvsna Kamukta प्यासी आंटी

अब सुबह हो गई थी। मौसी ने नहाकर चाय बनाई उसके बाद खाना बनाया। मौसी मौसाजी का टिफिन तैयार कर रही थी। तभी मौसाजी बाहर आ गये और वो दोनो रसोईघर मे थे। मौसी ने अन्दर से दरवाजा बंद कर दिया। मै खिडकी पर गया और देखा कि मौसी उनके लंड को निकालकर चूस रही थी। ऐसा करीब 15 मिनट तक चला। फिर मौसाजी काम से 2 दिन के लिए बाहर चले गये।

अब रात हो गई। मौसी, मै और वैशाली घर पर अकेले थे। मौसी मेरे पास बैठी थी। वैशाली सो गयी थी। मै फिल्म देख रहा था जिसमे किसिंग सीन चल रहा था। मौसी ने मेरे लंड पर अचानक हाथ रख दिया। मै घबरा गया था। मौसी बोली तुझे इसमे आनन्द आता है।

Antarvasna Hindi Sex Story  भाभी को बच्चे की माँ बनादीय

में : नही

मौसी : आओ मेरे कमरे मे..

मै उनके कमरे मे पहुँच गया और उन्होने कहा कि आज मजा ले ले।

मौसी बिल्कुल सैक्सी लग रही थी। वो वेड पर लेट गई। मै भी बैठ गया। उन्होने मेरा लंड पकड लिया। वो धीरे-2 मूड में आ रही थी। मै भी मूड मे आ गया। मैंने उनके बूब्स को दबाया। मैंने उनके ब्लाउज के बटन को खोला। फिर उनकी ब्रा और पेटीकोट खोला। उन्होने भी मुझे बिल्कुल नंगाकर दिया। वो मेरे ऊपर लेट गई। वो अपने होठ मेरे होठो पर रखकर किस करने लगी। 10 मिनट तक वो किस करती रही फिर मै उसके बूब्स को मसलने लगा। वो आआआआह कर रही थी।

मै उनकी चूत तक पहुंचा और उसे चाटने लगा। उनकी चूत से पानी निकलने लगा। मुझे लगा मौसी अब झडने वाली है।

फिर मैंने मौसी के पेरो को कंधो पर रख लिया। मै मौसी की गांड को पहले चोदना चाहता था। मैंने उनकी गांड पर अपना लंड रख दिया। लेकिन मेरा लंड 8 इंच लम्बा और 2 इंच मोटा था। मैंने मौसी से तेल माँगा। मैंने तेल अपने लंड पर लगाया और बचा तेल उनकी गांड मे भर दिया। मैंने उनकी गांड मे अपने लंड के मुहं को रख दिया। मैंने एक झटका दिया तो एक बार मे आधा घुस गया, वो एक साथ चिल्लाई। मैंने लंड को वहीँ रोक दिया। उन्होने कहा कि तू आज मैरी गांड को फाड दे और गांड को स्पीड से चोद। मै उनकी गांड चोदता रहा। वो कह रही थी कि तेरा लंड हमेशा मेरी गांड मे रहे। मै अब थक गया। वो भी अपनी गांड झटके दे रही थी। मैंने अपना लंड गांड से धीरे-धीरे निकाला।

Antarvasna Hindi Sex Story  कुछ जो नहीं होना चाहिए था

मैंने लंड को चूत मे धुसा दिया। लंड चूत मे पुच पुच कर रहा था। अब मै झड़ने वाला था। मैंने सारा का सारा वीर्य मौसी की चूत मे छोड़ दिया और मै उनके उपर ही सो गया ।।

धन्यवाद …