शादी से पहले चुदवाना पड़ा

दोस्तों मेरा नाम अंजली है और घर पर सभी लोग मुझे अंजू भी कहते है। मेरी उम्र 18 साल की है, Hindi Sex Stories Antarvasna Kamukta Sex Kahani Indian Sex Chudai में दिखने मे एक सुंदर बड़े बड़े बूब्स अच्छी सी गांड और मेरा फिगर 28, 24, 32 है। दोस्तों ये कहानी एक सच्ची कहानी है जो आज में आप सभी को बताने जा रही हूँ। दोस्तों मेरी दीदी अमृता जो मुझसे दो साल बड़ी है, मुझसे पहले उनकी शादी मनोज के साथ हुई थी, मेरी दीदी मुंबई मे रहती थी और साथ मे जीजू का भाई उनसे एक साल छोटा संजय भी साथ मे रहता था। उनके माता पिता उनसे थोड़ी दूरी पर रहते थे। मैने 12th पास की तभी जीजू दीदी बोले आगे पढ़ाई के लिए तुम भी मुंबई आ जाओ और में भी उनके कहने से मुंबई आ गई, अब मुझे वहाँ पर उन्होंने स्कूल मे एड्मिशन दिला दिया था और मे मुंबई में ही रहने लगी थी।

जीजू का भाई संजय एकदम चिकना और बहुत हेंडसम था। संजय अपने दोस्तो के साथ हर रात बाहर जाता था और बहुत लेट रात मे आता और दीदी और जीजू दस बजे अपने कमरे मे चले जाते थे। जीजू हर रात दीदी को चोदते थे। तभी एक दिन मुझे दीदी की आवाज़ सुनाई दी और में कमरे के पास गयी, शायद वो लोग दरवाजा बंद करना भूल गये थे, तभी मैने देखा कि दोनो बिस्तर पर नंगे थे। जीजू ने कहा कि मेरी जान तू बहुत नमकीन है, अब तो मुझे तेरी चूत का नशा चड़ गया है, में जब तक तुझे चोदूं नहीं मुझे चैन नहीं आता है। अब दीदी कहने लगी कि तू मुझे शादी के बाद से एक भी दिन चोदे बिना नहीं छोड़ता है, तभी जीजू कहने लगे कि तू मेरी बीवी जो है तुझे चोदना मेरा अधिकार है।

तभी जीजू दीदी के ऊपर चड़ गये थे और अपना लंड उनकी चूत मे डालकर लंड को आगे पीछे करके धीरे धीरे चोदने लगे और अपने एक हाथ से दीदी के बड़े बड़े बूब्स को दबा रहे थे और में यह सब देख रही थी, अब मुझे मालूम नहीं कि संजय मेरे पीछे कब आए और उन्होने मुझे खींचकर अपने कमरे मे घसीट कर ले गये, उसके मुहं से शराब और सिगरेट की स्मेल आ रही थी। वो कमरे मे मुझे लाकर मुझसे कहने लगे कि अंजू जो तुम देख रही थी वो आज हम भी करते है और तुम्हे देखने से ज्यादा मजा करने मे आएगा। अब मैने उसे कहा कि प्लीज संजय छोड़ दो मुझे, लेकिन अब संजय मुझे किस करने लगा था और उसने मेरी नाईटी की ज़िप खोल दी, अब में अपने आप को छुडवाने की कोशिश करने लगी, लेकिन में नहीं निकल पाई थी, संजय बहुत स्ट्रॉंग थे।

अब मैने उन्हे कई बार कहा कि छोड़ दो मुझे लेकिन संजय मुझे इतनी जोर से चाटने लगा और कहने लगा कि साली अब सारी जिंदगी तुझे मुझसे ही चूत चुद्वानी है और में ही सारी जिंदगी तुझे चोदने वाला हूँ। क्योंकि में तुझसे ही शादी जो करने वाला हूँ और अब उसने मेरी नाईटी निकाल कर मुझे पूरी नंगी किया और मुझे उठा कर बिस्तर पर लेटा दिया था और अब उसने अपने सारे कपड़े निकाले और अब वो भी पूरे नंगे थे संजय की बॉडी बहुत सेक्सी थी कसी हुई मसल और उस पर उसका लंड भी बहुत लम्बा था।

Antarvasna Hindi Sex Story  कस्टमर की बीवी को ठोका

अब में सोचने लगी कि ये लंड कैसे मेरी चूत मे डालेंगे और तभी अब संजय मेरे ऊपर चड़ गये थे और मुझे होठो पर किस करके चूसने लगे थे और अपने एक हाथ से मेरे बूब्स मसलते रहे। फिर उन्होंने मुझे गर्दन पर किस करते हुए नीचे आए और मेरे बूब्स को चूमने लगे। आह कितने प्यारे है ये मेरी जान तू बहुत सेक्सी और चिकनी है और नमकीन भी मेरे बूब्स को अपने मुहं मे लेकर चूसने लगे थे। अब वो दोनों बूब्स को जोर से चूस रहे थे और साथ मे अपने हाथ से मेरी चूत को सहला रहे थे और बहुत देर तक उन्होंने मेरे बूब्स को चूसा ओर मुझे बहुत मज़ा आ रहा था।

अब मेरी बॉडी को चूमते चूमते नीचे आकर मेरी चूत को चाटने लगे और कहने लगे कि क्या सेक्सी चूत है, बिल्कुल साफ और अब मेरी जांघे फैला कर और अब चूत को जीभ से चोदने चाटने लगे। कुछ देर बाद चूत चाटने के बाद उन्होंने लंड को हाथ से पकड़ कर चूत के मुहं पर लगाया और एक ही झटके मे अपना तना हुआ लंड जोर से मेरी चूत मे डाल दिया। अब में बहुत जोर से चिल्लाई, अब उन्होने मेरे मुहं पर अपना मुहं रखा और मेरे मुहं को अपने मुहं से सील कर दिया। अब मुझे बहुत दर्द हो रहा था और अब चूत से खून भी निकल रहा था। अब संजय मुझे ज़ोर ज़ोर से झटके देकर मुझे चोदने लगे थे, अब संजय मुझे जोर से चोदे जा रहे थे।

अब करीब बीस मिनट तक संजय मुझे चोदते रहे और अब थोड़ी देर बाद वो झड़ने लगे थे उन्होंने मेरी चूत मे अपना सारा वीर्य छोड़ दिया था, अब मेरा दर्द थोड़ा कम हुआ था और अब मुझे भी कुछ अच्छा लगने लगा था। लेकिन अब मुझे शादी से पहले चुदाई करना ठीक नहीं लगा था। अब में डर गयी थी क्योंकि में अब प्रेग्नेंट ना हो जाऊं में ये सोचने लगी थी। लेकिन में अभी भी संजय के नीचे दबी हुई थी और वो अब तक मेरे ऊपर ही थे और कुछ टाइम बाद वो नीचे आए और मुझे अपनी बाँहों मे समा लिया और किस करने लगे थे। और अब वो बोले कि मेरी जान बहुत मज़ा आया तुम्हारी चुदाई मे और तुम्हे? अब मैने कहा कि संजय मुझे बहुत डर लगता है, कहीं मे प्रेग्नेंट हुई तो अब वो कहने लगे कि मेरी जान तुझे मेरे ही बच्चे पैदा करने है और में तुझसे ही शादी करने वाला हूँ।

अब संजय ने लाइट ऑफ की और मुझे अपनी बाँहों मे समा कर बोले कि गुड नाईट अब आज के लिए बहुत है और अब हम सोते है। अब मैने कहा कि संजय मुझे अपने कमरे मे जाने दो, वो कहने लगे कि आज से तू मेरे साथ ही सोएगी। अब सुबह को जब हम ब्रेकफास्ट के लिए बैठे थे तभी जीजू ने कहा कि संजय तुम्हारी और अंजू की शादी हमने फिक्स कर ली है।

अब में कुछ बोल ना सकी लेकिन संजय बहुत खुश था, लेकिन मुझे संजय से शादी नहीं करनी थी क्योंकि संजय मुझसे आठ साल बड़ा था और में अपने घर के पास मे रहने वाले एक लड़का जिसका नाम अमित से बहुत प्यार करती थी। अमित दिखने मे बहुत अच्छा गोरा था और संजय बहुत काला था। मुझे बहुत लड़के कॉलेज मे देखते ही रहते थे। मैने दीदी को कहा कि मे ये नहीं चाहती कि में संजय से शादी करूं और अभी मैने शादी के लिए हाँ भी नहीं की है। तभी दीदी कहने लगी कि अब तुझे बाहर भटकना बंद करना होगा और तुझे संजय के साथ शादी करके उसे खुश रखना है।

Antarvasna Hindi Sex Story  अमेरिका में भाई के लंड से पहला मिलन

अब संजय के साथ मुझे घूमने जाना पड़ा संजय मुझे डिस्को लेकर गये डांस करते मुझे चूमा था और बॉडी पर अपना हाथ घुमाते थे। रात को हम घर आए दीदी जीजू अपने कमरे में थे। अब संजय ने जीजू को मोबाइल लगाया और कहा कि हम वापस आ गये है और मे अंजू को आज से मेरे कमरे मे ले जाता हूँ, मोबाइल स्पीकर पर थे जीजू बोले कि ले जाओ, अब कुछ दिनों बाद तुम्हारी शादी होने वाली है, आज नहीं तो कल तुझे ही उसे चोदना है, तू तो चुदाई आज से ही शुरू कर ले। अब संजय बोले कि हमारी चुदाई तो कल से ही शुरू हो गयी है। जीजू बोले कि तो फिर करो चुदाई और मज़ा लो जैसे हम कर रहे है। अब संजय मुझे खींच कर अपने कमरे मे ले गये। मैने अपने आप को छुड़ाने की कोशिश की लेकिन संजय मुझे छोड़ने को तैयार नहीं हुए। अब उनसे कहने लगी प्लीज छोड़ दो मुझे, अब संजय कहने लगे कि मेरी जान अब तो तुझे मुझसे ही रोज चुदवाना है और में तेरा होने वाला पति जो हूँ। अब मुझे कमरे में लेकर आते ही संजय ने मेरे सारे कपड़े निकाल कर मुझे पूरा नंगा कर दिया था और बिस्तर पर लेटा दिया था।

अब संजय ने भी अपने सारे कपड़े निकल कर नंगे हो गये थे और मेरी बॉडी के ऊपर आ गये मेरी जान तू कितनी चिकनी और सेक्सी है, तुझे जब से देखा तब से अपनी बनाने का ही सोचा था। अब में तो रोज़ तुझे चोदूंगा और मुझे किस करने लगे और मेरे बूब्स मसलने लगे और में उनके नीचे दबी हुई थी। अब वो मुझे चूमते चूमते हुए ज़रा नीचे झुके और मेरे बूब्स को चाटने लगे और बूब्स को जोर से मुहं मे लेकर चूसने लगे थे, वाह क्या मेरी जान ये टमाटर कितने प्यारे है एक एक करके उन्होंने मेरे बूब्स को ज़ोर ज़ोर से चूसने लगे थे।

अब वो मुझसे कहने लगे कि मेरी जान मेरा लंड अपने हाथ मे लेकर तुम इसे सहलाओ। मैने कहा कि में ऐसा नहीं कर सकती। अब वो चिल्लाया और मुझे कहने लगा कि में जो कहूँ वैसा करो और तुझे इसके बाद मे लंड को चूसना भी है। अब मैने कहा नहीं, फिर उन्होने मुझे ज़ोर से बैठा दिया, अब कहने लगे कि जो तूने नहीं किया तो में तुझे बहुत पीटूँगा। अब मैने उनका लंड अपने हाथ मे लिया और सहलाने लगी और अब ऐसे ही कुछ टाइम बाद मेरे बूब्स को चूसने के बाद वो उल्टे हुए और अपना लंड मेरे मुहं के सामने रखा और अब कहने लगे कि मेरी जान इसे अपने मुहं मे लेकर चूसो और अब तुम्हे मेरा लंड तो रोज़ ही चूसना है। मुझे अच्छा नहीं लगा फिर भी में उनका लंड मुहं मे लेकर चूसने लगी और वो मेरी चूत चूस रहे थे, मेरी लाईफ मे पहली बार में ऐसा कर रही थी। अब संजय बोले ज़ोर से चूसो में ज़ोर से चूसने लगी थी, अब मेरी चूत से पानी निकलना शुरू हुआ और अब संजय वो सब मस्ती से पीने लगे थे और उन्होने मेरे मुहं मे अपना वीर्य छोड़ दिया। अब मुझे भी वो पीना पड़ा था और अब संजय ने मुझे अपनी बाँहों मे लिया और मुझे चूमने लगे और अब वो कहने लगे कि मेरी जान तू तो बड़े अच्छे तरीके से चूसती है बहुत मज़ा आया अब तो रोज़ इसी तरह लंड को चूसना और में तेरी चूत को चोदूंगा।

Antarvasna Hindi Sex Story  किरायेदार की बीवी को मस्ती से ठोका

अब मैने संजय को कहा कि अब मुझे जाने दो और तभी वो कहने लगे कि मेरी जान अब तो रोज़ हर रात मेरे साथ तुझे एक ही बिस्तर मे गुजारनी है। अब संजय मेरी बॉडी के ऊपर चढ़ गये और अपना तना हुआ लंड मेरी चूत मे ज़ोर से डाल दिया था और अब मेरे हाथो को चूमते चूमते मुझे झटके देकर चोदने लगे। अब ज़ोर ज़ोर से झटके देते ही जा रहे थे और मुझे चोदे जा रहे थे। संजय का लंड मेरी चूत के अंदर घुस घुस कर चुदाई कर रहा था और अब संजय ने अपनी स्पीड बड़ाई और तेज़ी से चोदने लगे थे। उन्होंने करीब आधे घंटे तक मुझे चोदा और उनकी इस चुदाई से मेरी चूत मे बहुत दर्द था। मैने उनको कई बार कहा था लेकिन वो सुनने को बिलकुल भी तैयार नहीं हुए और चुदाई किये ही जा रहे थे अब करीब बीस मिनट बाद में झड़ने लगी थी लेकिन वो नहीं रुके और तभी कुछ देर बाद चुदाई करते करते उनकी स्पीड ओर बड़ गई। अब मुझे लगा कि शायद वो भी अब झड़ने वाले थे और अब वो मेरी चूत मे ही झड़ गये और सारी चूत अपने वीर्य से भर डाली थी। जैसे ही चूत मे लंड से वीर्य गिरा मुझे ना जाने क्या हुआ और में पूरी अकड़ गई थी और अब उनकी स्पीड भी कम हुई।

अब में डर गई, तभी मैने उनसे कहा कि संजय मे प्रेग्नेंट हो गई तो, तभी वो बोले क्या हुआ में भी तुझे प्रेग्नेंट करना चाहता हूँ और तुझे ही तो मेरे बच्चे पैदा करने है। अब अपनी बाँहों मे लिया ओर अब हम सोने लगे। लेकिन उस रात संजय ने एक बार और मुझे चोदा। अब सुबह दस बज गये थे और हम दोनो उठकर बाहर गये, बाहर जीजू दीदी बैठे हुए थे तभी जीजू बोले कि क्या रात को मज़ा आया और तभी संजय बोला बहुत मजा आया। तभी जीजू कहने लगे कि संजय अब तुम आज से इसे तुम्हारे कमरे मे ही अपने साथ सुलाया करो और तुम दोनों साथ मे ही रहा करो और तभी संजय बोले कि हाँ एक बार चुदाई करने के बाद उसका नशा चढ़ जाता है और तभी जीजू बोले कि करो जितना करना है। अब हर रात मुझे संजय चोदता था। करीब दो महीने मे हमारी शादी हो गयी थी और अब हर रोज़ संजय अपना पति होने का अधिकार जताकर मेरी बहुत चुदाई करता है। उसने तो शादी से पहले ही मुझे कई बार चोदा तो अब शादी के बाद वो कहाँ मुझे छोडता। उसने कई बार मेरी चूत फाड़ी और कई बार मेरी गांड भी। लेकिन दोस्तों में आज भी उससे खुश नहीं हूँ ।।