लक्ष्मी को तीन ने रांड बनाया

हेल्लो दोस्तों, Antarvasna मुझे बहुत ख़ुशी हो रही है कि आप लोगों को मेरी लिखी हुई स्टोरी बहुत पसंद आ रही है। में उम्मीद करता हूँ कि पहले की तरह आपको मेरी यह स्टोरी भी बहुत पसंद आएगी। हम लोग तीन दोस्त है। मेरा नाम राजा है, सब प्यार से मुझको सरदार बोलते है। अभिषेक और गौरव हम तीनों ने साथ में पढ़ाई की है और हम लोगों का पूरा बचपन साथ में बीता, यूँ समझ लीजिए कि हम लोग एकदम लंगोटिया यार है। यह बात तब की है, जब हम तीनों ग्रेजुएशन पूरा कर रहे थे। हम लोगों की बहुत लड़कियों से दोस्ती थी। उनमें से एक दोस्त थी जिसका नाम लक्ष्मी था, वो हम लोगों की बहुत अच्छी फ्रेंड थी और हम लोगों के कुछ ज्यादा ही क्लोज थी और वो दिखने में क्या खूबसूरत थी? पूरा कॉलेज उसके पीछे पड़ा था।

हम लोग इतने अच्छे दोस्त थे कि पूछो मत, यहाँ तक कि वो हम लोगों के साथ बैठकर दारू और बी.एफ देखती थी। अब यह सब बहुत बार हो चुका था, तो हम लोगों का भी मन बेईमान हो गया और अब हम लोगों ने उसका काम लगाने की ठान ली थी। फिर कुछ दिन के बाद अभिषेक का घर खाली हुआ। फिर हम लोगों ने वहाँ पर पार्टी रखी और लक्ष्मी को भी बुलाया, तो वो आ गयी। वो हम लोगों को किसी भी बात का मना नहीं करती थी। उस दिन मैंने घर पर चिकन बनाया था, क्योंकि हम तीनों में खाना बनाना केवल मुझको आता था और फिर सब बनाकर हम लोग पीने बैठ गये। फिर उस दिन हम चारों ने खूब दारू पी। फिर जब सब नशे में हो गये, तो तब गौरव ने लक्ष्मी से कहा कि आज में तुमको कुछ दिखाता हूँ और फिर वो लैपटॉप पर बी.एफ लगाकर बैठ गया, क्योंकि अब सब बहुत ज्यादा पी चुके थे, तो हमको होश नहीं था।

फिर हम सब ब्लू फिल्म देखने लगे। तभी मैंने लक्ष्मी को पीछे से पकड़ लिया और उसकी चूचीयों को दबाने लगा, उसकी चूचीयाँ क्या थी? एकदम मस्त और बड़ी बड़ी थी। अब मुझको दबाने में बहुत मजा आ रहा था। तो तभी वो एकदम से पलटकर बोली की क्या कर रहे हो? तो तब मैंने उससे कहा कि चुप रहो और ब्लू फिल्म देखो, कितना मजा आ रहा है? तो तब उसने छुड़ाने की बहुत कोशिश की, लेकिन उसकी कोशिश बेकार गयी, क्योंकि अब हम तीनों उसको चोदने का मन बना चुके थे और फिर हम तीनों एक साथ उस पर झपट पड़े। फिर मैंने उसका टॉप उतार दिया और अभिषेक ने उसकी जीन्स को उतार दिया था। अब वो केवल ब्रा और पेंटी में थी। अब वो भागकर एक कोने में खड़ी हो गयी थी। फिर अभिषेक ने कहा कि यार क्या है? किसी को कुछ भी मालूम नहीं पड़ेगा। तो तब वो बोली कि नहीं, यह सब ठीक नहीं है।

Antarvasna Hindi Sex Story  सगी भाभी की चूत का प्रसाद

फिर मैंने उससे कहा कि तो क्या यह ठीक है? कि तुम तीन लड़को के साथ बैठकर बी.एफ देख रही हो और दारू पी रही हो। तो तब वो बोली कि क्या यार तुम लोग भी ना? यार ये क्या बात हुई? तो तभी गौरव बोला कि एक बार मज़ा लेकर तो देखो, बहुत मजा आएगा। तो तब वो बोली कि नहीं यार, कही कुछ हो गया तो। तो तब हम लोग बोले कि कुछ नहीं होगा, हम लोग कंडोम का उपयोग करेंगे। तो तब वो कुछ सोचकर बोली, लेकिन। तो तभी उसके इतना कहते ही हम तीनों उसको पकड़कर बेड पर ले आए। तो तब वो बोली कि आराम से करना, अब वो भी तैयार हो गयी थी। फिर मैंने उसकी ब्रा को उतारकर उसकी चूची को बाहर निकाल दिया, क्या मस्त चूची थी उसकी? और फिर हम लोगों ने उसकी चूची को बाहर निकालकर खूब चूसा। फिर अभिषेक ने उसकी पेंटी को उतार दिया, उसकी चूत के तो क्या कहने थे? उसकी चूत मस्ती से इतनी गर्म हो गयी थी कि मानो कि उसमें से आग निकल रही हो।

Antarvasna Hindi Sex Story  फ्रेंड की बड़ी बहन ने मुझे चोदा

फिर तभी अभिषेक ने उसकी चूत पर अपना एक हाथ रखा। तो वो एकदम से सिसक उठी आआहहह और फिर वो उसकी चूत को चाटने लगा। अब वो अपना कंट्रोल खो चुकी थी। अब हम तीनों बारी-बारी उसकी चूत और चूची को चूस और चाट रहे थे और खूब किस कर रहे थे। अब वो एकदम पागल हो रही थी और उसको देखकर हम लोगों में चुदाई का हैवान जाग रहा था। तो तभी मैंने अपना लंड बाहर निकालकर उसके मुँह में दे दिया। तो पहले तो वो ना-नुकर करने लगी और फिर उसने मेरा लंड अपने मुँह में ले लिया और कसकर चूसने लगी थी। फिर हम तीनों ने बारी-बारी से उसके मुँह में अपना लंड दिया और वो चूसती रही। अब यह सारी वारदात हम लोग अपने वीडियो कैमरे में रिकॉर्ड कर रहे थे और उसको पता तक नहीं था। दोस्तों ये कहानी आप चोदन डॉट कॉम पर पड़ रहे है।

फिर में नीचे लेट गया और लक्ष्मी को अपने ऊपर लेटा दिया और अपना लंड उसकी गांड में डाल दिया और अभिषेक ने उसकी चूत में अपना लंड डाल दिया था। फिर पहले तो उसका लंड जा नहीं रहा था, तो फिर उसने उसकी चूत में कसकर एक धक्का मारा तो उसका लंड पूरा अंदर चला गया और वो चीख उठी आआह, लेकिन हम लोगों ने उसकी एक नहीं सुनी और उसकी चुदाई करने लगे और गौरव अपना लंड उसके मुँह में देकर अपना लंड चुसवा रहा था। फिर ऐसे ही बारी-बारी से हम तीनों ने उसकी चुदाई की और उसके मुँह के ऊपर अपना सारा वीर्य गिरा दिया। अब वो भी ठंडी होकर पलट गयी थी। फिर वो बाथरूम में चली गयी। फिर हम लोगों ने सोचा कि क्यों ना अब अकेले-अकेले इसको चोदा जाए? फिर जैसे ही वो केवल टावल में नहाकर आई, तो मैंने उसका टावल खींच दिया और उसको बेड पर गिरा दिया और उसको किस करने लगा था। अब गौरव और अभिषेक बाहर चले गये थे। फिर मैंने बिना टाईम बर्बाद किए अपना लंड उसकी चूत में डाल दिया तो वो रो पड़ी और बोली कि यार ये क्या बात हुई? यार अब तुम लोग मुझको परेशान कर रहे हो। लेकिन मैंने उसकी एक नहीं सुनी और उसकी चुदाई करने लगा। अब वो रो रही थी और भागने की कोशिश कर रही थी और में उसकी चुदाई करने में मग्न था। फिर कुछ देर के बाद वो ठीक हो गयी और मेरी चुदाई में मेरा साथ देने लगी थी। फिर मैंने कई स्टाइल में उसकी चुदाई की। अब वो झड़ने वाली थी और मुझसे कहने लगी कि और कसकर चोदो मेरी चूत को। फिर में उसकी चूत को कसकर चोदने लगा और अपना वीर्य उसकी चूत में ही गिरा दिया और बाहर जाने लगा। तो तब वो भी उठकर बैठ गयी और चुपचाप अपने कपड़े पहनने लगी, लेकिन अभी उसकी चुदाई ख़त्म कहाँ हुई थी? फिर में बाहर गया और अभिषेक अंदर आ गया। फिर उसने उसकी चुदाई और फिर गौरव ने उसकी चुदाई की। अब वो उस दिन एकदम पागल हो गयी थी। फिर बड़ी मुश्किल से हम लोगों ने उसको जाने दिया और अब हम बाद में अपनी खुद की ब्लू फिल्म देख देखकर मुठ मार रहे थे। फिर उसके कई दिनों तक उसने हम लोगों से बात नहीं की और ना ही हम लोगों की किसी पार्टी में आई। फिर धीरे-धीरे बाद में सब ठीक हो गया। अब हमें जब भी कोई मौका मिलता है, तो हम तीनों उसको चोदते है और उसकी बी.एफ दिखाकर उसको ब्लेकमैल करते है। अब उसकी शादी हो गयी है, लेकिन हम तीनों अभी भी उसके घर पर जाते है और उसकी चुदाई करते है और वो कुछ कह भी नहीं पाती है और हम तीनों उसके मजे लेते रहते है ।।

Antarvasna Hindi Sex Story  लखनऊ की आरती की चुदाई

धन्यवाद …

  • Amit kumar

    Delhi ki girls aur ladies sex karne k liye whatsapp 8459151380 pe mg kro