बुआ और उनकी रंडी बेटियाँ

हैल्लो दोस्तों, Antarvasna मेरा नाम राज है और में जबलपुर का रहने वाला हूँ। में चोदन डॉट कॉम का नियमित पाठक हूँ। अब में आपका समय ख़राब ना करते हुए सीधा अपनी स्टोरी पर आता हूँ। में अपनी बुआ (पापा की बहन) के घर रहता था। में 12वीं क्लास में पढ़ता था। मुझे पहले से ही सेक्स में रूचि थी और मेरी इच्छा भी होती थी। मेरा फूफा (उनके पति) वो दूसरे गाँव में रहते थे और नौकरी करते थे। वो और उनकी दो बेटियाँ शहर में रहते थे, क्योंकि उनकी दोनों बेटियाँ एम.बी.बी.एस की पढ़ाई करती थी। मेरी उन तीनों के साथ अच्छी बनती थी और वो लोग खुले स्वभाव के थे। में कभी-कभी उनको बाथरूम में नाहते देखने की कोशिश करता था, लेकिन कभी सफल नहीं हुआ। मेरी बुआ (पापा की बहन) और उनकी बड़ी बेटी का फिगर अच्छा था और छोटी बेटी का ठीकठाक था, वो लोग डॉक्टर की पढ़ाई कर रही थी।

फिर एक दिन वो दोनों कंडोम और सेक्स की बातें कर रहे थे। अब में वहाँ बैठा था और उनकी बातें सुन रहा था, अब मुझे बहुत मज़ा आ रहा था। फिर एक दिन मुझे सेक्स की इतनी इच्छा हुई कि में नंगा होकर बाथरूम में टब में सो गया। अब बुआ (पापा की बहन) का काम ख़त्म करके नहाने का टाईम था। अब मैंने बाथरूम का दरवाज़ा खुला छोड़ दिया था। तो तभी वो अंदर आ गयी और ब्रश करके अपने कपड़े ऊपर करके लेट्रिन करने बैठ गयी। तो मैंने उसकी जांघे देखी, वो मोटी और बहुत सुंदर थी। अब में छुपा हुआ था। फिर वो अपने कपड़े उतारकर नहाने लगी, मैंने जिंदगी में पहली बार किसी औरत को नंगा देखा था। अब मेरी खुशी का ठिकाना नहीं था, उनके क्या मोटे बूब्स थे? और गांड तो देखने लायक थी। तो तभी मेरा पैर फिसला और उन्होंने मुझे देख लिया और चिल्लाई।

Antarvasna Hindi Sex Story  बहन की सलवार का नाड़ा

अब में डर गया था, लेकिन मैंने उनसे कहा कि में भी नंगा हूँ, तो आप शरमाओ मत और किसी को बताना भी मत। अब में जब टब से उठकर बाहर आ रहा था तो मेरा पैर फिसला और में उनके ऊपर गिरा, तो मैंने उनके बूब्स को हाथ लगाया। फिर उन्होंने मुझे बहुत डाटा और बाथरूम से बाहर निकाल दिया। फिर 5-6 दिन तक वो मुझे पूरे दिन घूरती रही। अब में डरा रहता था कि वो मेरे मम्मी पापा को ये बात ना बता दे। फिर एक दिन छुट्टी का दिन था और गर्मी भी बहुत थी और उनका ए.सी बिगड़ गया था। फिर हम लोग रात को बाहर खाना खाकर वापस लौटे, तो में कपड़े बदलने बाथरूम में जा ही रहा था कि वो तीनों बेड पर बैठी थी। फिर उन्होंने मुझे रोका और कहा कि में उनके सामने कपड़े बदलूं। तो में हक्का बक्का रह गया, उन्होंने मुझे उस दिन बाथरूम वाली बात से ब्लेकमैल किया था, तो मुझे उनके सामने नंगा होना पड़ा। अब में नंगा खड़ा था और वो तीनों मुझे देख रही थी। फिर एक ने आकर मेरी नेकर उतार दी और मेरा लंड पकड़ लिया।

अब मुझे एक तरफ से मज़ा आ रहा था और दूसरी तरफ से कुछ समझ में नहीं आ रहा था कि ये आचनक से क्या हो रहा था? तो तभी बुआ ने एक लंबी लकड़ी निकाली और मुझे नीचे झुकने को कहा और मेरी गांड पर ज़ोर-ज़ोर से मारना शुरू किया। अब में दर्द के मारे चिल्ला पड़ा था। अब उन्होंने मार- मारकर मेरी गांड लाल कर दी थी। अब मुझे ऐसा लग रहा था कि मेरी गांड पर खून लगा हो। फिर बुआ बोली कि यह उस दिन की सजा है और फिर मुझसे कहा कि अब तेरी सज़ा यह है कि तू घर में नंगा ही घूमेगा और जो हम बोले वो करना होगा, नहीं तो वो यह बात मेरे घर पर बता देंगी। फिर वो बोली कि तेरा लंड तो बहुत बड़ा और कड़क है और फिर उन तीनों ने मेरा लंड चूसा। अब वो तीनों धीरे-धीरे अपने कपड़े उतार रही थी और अब मुझे तो यह सज़ा अच्छी लग रही थी। फिर उन्होंने मुझसे कहा कि में बारी-बारी उन तीनों की चूत चूसू। अब बारी चोदने की थी। दोस्तों ये कहानी आप चोदन डॉट कॉम पर पड़ रहे है।

Antarvasna Hindi Sex Story  कामुक भाबी की जिस्म की गर्मी

फिर उन्होंने मुझे नीचे कंडोम बॉक्स में से 6 कंडोम लेकर आने को कहा। फिर उन्होंने अपने थूक से अपनी चूत को गीला किया। फिर मैंने अपनी जीभ से बुआ (पापा की बहन) की चूत को गीला किया और फिर अपने लंड पर कंडोम लगाया और धीरे से अपना लंड उनकी चूत में डाला, तो वो चिल्लाई। अब मुझे मज़ा आ रहा था। फिर उसी वक्त उन्होंने उनकी बड़ी बेटी की चूत अपने मुँह में लेने को कहा। अब में चूत चूस रहता और मज़ा ले रहा था। अब उसी वक्त उनकी छोटी बेटी मेरी और बुआ की गांड में उंगली कर रही थी। फिर बुआ के कहने पर मैंने उनकी बड़ी बेटी की चूत में वाइब्रेटर टॉय घुसाया। अब वो रो रही थी और अब उसकी चूत में से पानी निकल रहा था और अब वो और बुआ चिल्ला रही थी। अब में साथ में बुआ के बूब्स भी चूस लेता था, उन तीनों ने मुझे सज़ा दी थी, लेकिन अब मुझे मज़ा तो आ रहा था। अब बुआ तो रोने लग गयी थी।

फिर वो बोली कि आज मेरी चूत फाड़ दो, मुझे और चोदो, मुझे और चोदो और उसी वक्त उनकी बड़ी बेटी ने मेरे ऊपर अपना पानी निकाल दिया और में उसका सारा रस पी गया, लेकिन में फिर भी उसकी चूत को चाटता रहा और वो बोलती गयी कि मुझसे बचो, ओह माई पुसी इज सो वेट और अब बुआ भी रो रही थी, क्योंकि अब में उसे ज़ोर-ज़ोर से चोद रहा था, आह क्या मज़ा आ रहा था? तो तभी उनकी छोटी बेटी ने मेरी गांड में कुछ घुसा दिया और मेरा पॉवर कम हो गया और में लेट गया। फिर मैंने उनकी छोटी बेटी की चूत चाटना शुरू किया। अब वो उऊहह, उई माँ, ओह, आह माँ, आऊहह की आवाजे निकलने लगी थी। फिर मैंने उनकी बड़ी बेटी को चोदना शुरू किया। अब वो बोलने लगी थी कि फुक मी, फुक मी, माई पुसी इज सो वेट, फुक मी हार्ड, ओह गॉड। तभी बुआ और उनकी छोटी बेटी ने लेस्बियन करना शुरू किया। अब में तो जन्नत में आ गया था। फिर मैंने 2 घंटे तक उन्हें चोदा। अब हम सब नंगे ही आराम कर रहे थे। फिर मैंने उनकी छोटी बेटी को चोदना शुरू किया और अब वो मज़े ले रही थी। अब मुझे थकान महसूस हो रही थी।

Antarvasna Hindi Sex Story  बीवी को चुदाई का नशा

फिर हम लाईन से खड़े हुए और चूत और लंड चाटना शुरू किया। फिर मैंने बुआ की चूत में अपना मुँह डाला, अब वो मेरे आगे थी और फिर बुआ ने अपना मुँह अपनी छोटी बेटी की चूत में डाला और छोटी बेटी ने अपना मुँह बड़ी बेटी की चूत में डाला और फिर अंत में बड़ी बेटी जो मेरे पीछे थी, उसने मेरा लंड अपने मुँह में ले लिया। फिर हमने एक ब्लू फिल्म भी लगाई और देखते-देखते चूत चटाई चलती रही और सुबह हो गयी। फिर हम सबने 3-4 घंटे आराम किया और अब हम सब रोज घर में नंगे ही घूमते थे और साथ में नाह लिया करते थे और कभी चूत पर आइसक्रीम लगाकर चाटते, तो कभी लंड का पानी दाल में मिलाते और ऐसे बहुत सारे कारनामे करते थे ।।

धन्यवाद …

  • anil vats

    Koy mera land lege