सेक्सी आंटी का साउंड सिस्टम

हैल्लो दोस्तों, Antarvasna मेरी यह एक रियल स्टोरी है, जिसको में पेश करने जा रहा हूँ। में एक कंपनी में इंजिनियर हूँ और कोई खास परेशानी में ही कस्टमर के पास जाना पड़ता है, बाकी तो हमारे सर्विस सेंटर से ही हो जाता है। फिर एक बार मुझे मेरे बॉस ने एक एड्रेस दिया और कहा कि यहाँ उनका साउंड सिस्टम नहीं चल रहा है और बार-बार परेशानी आती है, तो वहाँ जाकर देख लो और अगर जरूरत पड़े तो ठीक करवा दो। फिर में दोपहर में लंच के बाद फोन करके कस्टमर के घर गया तो वहाँ एक आंटी ही थी, वो करीब 40 साल की होगी, उसके बूब्स काफ़ी बड़े थे और उन्होंने साड़ी पहन रखी थी। फिर मुझे उनके बूब्स की गोलाई काफ़ी साफ़-साफ़ दिखाई दे रही थी, लेकिन सेक्सी लग रही थी और थोड़ी मोटी भी थी, लेकिन मुझे मोटी औरतें बहुत ही पसंद है, तो में उनमें रूचि लेने लगा, तो उसको भी थोड़ा सा मज़ा आ गया।

फिर उन्होंने मुझे उनका मिनी थियेटर में ले जाकर साउंड सिस्टम बताया। फिर मैंने चैक किया और मैंने उसमे काफ़ी सारी परेशानी देखी तो मैंने उसे ठीक कराने की सोची और उनसे जानकारी पूछने लगा। फिर वो बिल लाने के लिए अंदर चली गयी और थोड़ी देर के बाद बिल और वारंटी कार्ड लेकर आई और मुझे बिल दिखाने लगी, लेकिन वो बिल तो माइक्रोवेव का था तो मैंने बताया कि ये नहीं साउंड सिस्टम का बिल लाओ। तो उसने बताया कि आप खुद आकर देख लो, मुझे तो मालूम नहीं पड़ता है, तो में उनके साथ अंदर रूम में गया। फिर वहाँ उसने कबोर्ड खोला और खोलकर इतने पास आकर खड़ी हुई कि उसके बूब्स मुझे टच करने लगे।

फिर मैंने मेरी कोहनी को एक बार उसके बूब्स पर टच किया, लेकिन उसने कोई जवाब नहीं किया। तो मैंने दुबारा से ऐसा किया और अब थोड़ा हाथ उसके बूब्स के पार्ट पर दबाया भी, तो उसका कोई जवाब नहीं होने के कारण मैंने अपने हाथ से तीन चार स्ट्रोक भी मारे। तो उसने फिर भी कुछ जवाब नहीं किया तो फिर मेरी हिम्मत खुल गयी और में अपने हाथ जानबूझकर उसके एक बूब्स के पास ले गया। फिर वो सिर्फ़ मुस्कुराई और मुझसे इधर उधर की बातें करने लगी और मेरा फोन नंबर लिया और कहा कि जल्दी से ठीक करवाना, नहीं तो में आपको फोन करके परेशान करती रहूंगी। फिर मैंने उसको बताया कि ये 10 दिन में ठीक हो जाएगा, लेकिन उसने कहा कि मुझे 4 दिन में चाहिए नहीं तो में आपको फोन करूँगी। फिर मैंने कहा कि ठीक है में कोशिश करता हूँ।

Antarvasna Hindi Sex Story  साली को ब्लैकमेल करके चोदा

फिर दो दिन के बाद उसका फोन आया कि कम से कम 10 दिन तक चले ऐसा तो कर दो। फिर में उसके घर गया तो आज उसने पारदर्शी नाइटी पहने हुए थी। फिर में वहाँ थियेटर में गया और सिस्टम चालू करके दिया। फिर उसने कहा कि आप यहाँ बैठो में अभी आती हूँ और वो कॉफ़ी लेकर आई और कहा कि आज कोई नौकर नहीं है, इसलिए मुझे खुद को लानी पड़ी। फिर ये सुनकर में समझ गया और कॉफ़ी पीते- पीते उसकी आँखों में देखने लगा और पूछा कि आपके पति क्या करते है? तो वो बोली कि उनका केमिकल एक्सपोर्ट यूनिट है, वो अभी अमेरिका गये है और बातों-बातों में पता चला कि वो ऐसे अक्सर जाते आते रहते है और यहाँ ज़्यादा ध्यान नहीं देते है। फिर मेरे मुँह से निकल गया कि आप मोटी है, इसलिए तो कहीं ध्यान नहीं देते है ऐसा तो नहीं। फिर वो मेरे सामने देखने लगी और थोड़ी देर के बाद कहा कि बात तो एकदम सच है। फिर मैंने कहा कि मोटे लोगों को जो ऐसे इग्नोर करते है उनको मालूम नहीं कि मोटे लोग जो मज़ा दे सकते है वैसा कोई नहीं दे सकता।

फिर उसकी आँखों में एक चमक आ गयी और पूछा कि कोई अनुभव है, तो मैंने कहा कि हाँ मुझे तो मोटे लोग ही पसंद है। फिर वो मेरे सामने देखने लगी तो मैंने थोड़ी हिम्मत करके उसके हाथ पर अपना हाथ रख लिया। फिर उसने कुछ नहीं कहा और बस अपनी आँखें बंद कर ली। फिर मैंने उसके लिप्स पर अपनी एक उंगली लगाई, तो वो मेरे हाथ पकड़कर मुझसे लिपटने की कोशिश करने लगी। फिर में उसके लिप्स को किस करने के लिए अपने लिप्स उसके पास लेकर गया तो उसने अपनी आँखें खोलकर मेरे लिप्स के ऊपर उसके लिप्स रख दिए और एक जोरो की लंबी सी किस ले ली। फिर वो उठ गयी और बताया कि यहाँ बैठो में दरवाजा बंद करके आती हूँ और जल्दी से दरवाजा बंद करके आई। फिर में उसकी नाइटी के ऊपर से ही उसके बूब्स दबाने लगा और किस करने लगा, तो वो भी एकदम हॉट-हॉट हो गयी और कहने लगी कि ऑहहह माँ कितने दिनों के बाद ऐसा मज़ा रहा है? करते रहो मज़ा आ रहा है और फिर मैंने उसकी नाइटी उतार दी और उसके बड़े-बड़े बूब्स ब्रा की क़ैद में थे, वो क्या सीन था? और उसकी पेंटी भी काफ़ी बड़ी थी। दोस्तों ये कहानी आप चोदन डॉट कॉम पर पड़ रहे है।

Antarvasna Hindi Sex Story  बुआ की मस्त लाल गांड चोदी

फिर में उसकी ब्रा को खोलकर उसके बड़े बूब्स के निप्पल चूसने लगा। अब वो भी मज़े ले रही थी आआआआहह मज़ा आ रहा है, संजय मुझे छोड़ना नहीं, मुझे कई दिनों के बाद ऐसा मज़ा आ रहा है। फिर मैंने उसको सोफे पर लेटाया और उसकी पेंटी उतार दी, अब वो एकदम नंगी थी। फिर मैंने भी अपने कपड़े उतार दिए, तो वो मेरा मोटा टाईट 8 इंच लम्बा लंड देखकर पागल सी हो गयी और उसको पकड़कर सहलाने लगी। फिर मैंने उसकी चूत पर अपना हाथ घुमाया तो उसकी चूत पूरी पानी-पानी हो चुकी थी और वो ऊऊऊहह, आआआअहह की आवाज़ कर रही थी। फिर मैंने उसके दोनों पैर चौड़े करके उसकी चूत के बीच में अपना मुँह रखा और उसकी चूत को चाटने लगा और जैसे ही चाटने लगा तो वो अपने हाथ से मेरे सिर को पकड़कर उसकी चूत में डालने लगी, अब मुझे भी मज़ा आ गया था।

फिर मैंने उसकी चूत खूब चाटी और उसकी चूत में उंगली भी डाली। फिर वो भी तड़प उठी और कहने लगी कि अब बहुत हो गया, अब कुछ करो, अब रहा नहीं जाता। फिर मैंने उसको सोफे से नीचे उतारकर उसको जमीन पर लेटा दिया और उसके दोनों पैरो को चौड़ा करके अपना 8 इंच लम्बा लंड उसकी चूत के छेद पर रखा और एक धक्का दिया तो मेरा पूरा लंड अंदर चला गया। अब उसके मुँह से आवाजे निकलने लगी थी ऊऊऊऊओह, माआआ में मरररर गयी, तूने आज मेरी ख्वाइश पूरी कर दी, इस चूत को 2 साल के बाद आज ये मिला है, मुझे बहुत मज़ा आ रहा है, ज़ोर-ज़ोर से करो और ज़ोर से करो। अब में उसको चोदने के साथ-साथ उसके बड़े-बड़े बूब्स भी दबा रहा था और चूस रहा था। फिर करीब 10 मिनट के बाद मैंने अपना पानी उसकी चूत में ही छोड़ दिया। फिर हम उठकर खड़े हो गये और साफ सफाई की और ऐसे ही नंगे बैठे रहे और बातें करने लगे कि कैसे अचानक से हम मिले? और मज़ा करने लगे। फिर मैंने पूछा कि तुमको कभी तुम्हारे पति ने डॉगी स्टाइल में चोदा है।

Antarvasna Hindi Sex Story  चाची के साथ सुहागरात

फिर उसने कहा कि कोशिश की थी, लेकिन उनका लंड इतना बड़ा ना होने के कारण उनको मज़ा नहीं आता था और अब तो 2 साल से मुझे छूते भी नहीं है और मुझे आज ही मज़ा आया। फिर मैंने उसको फिर से गर्म किया और उसके बड़े-बड़े बूब्स दबाने और चूसने लगा। अब उसकी निपल भी एकदम खड़ी हो गयी थी। फिर मैंने उसको सोफे का सहारा लेकर डॉगी स्टाइल में किया और पीछे से अपना लंड उसकी चूत पर टिकाया और एक जबरदस्त धक्का दिया तो मेरा पूरा लंड अंदर चला गया। फिर वो कराहने लगी और छटपटाने लगी। फिर मैंने ज़ोर-ज़ोर से धक्के देना स्टार्ट किया और करीब 15 मिनट तक उसकी चूत की सर्विस करता रहा, तो थोड़ी देर के बाद उसने फिर से पानी छोड़ा। फिर साफ सफाई करके हमने अपने-अपने कपड़े पहने और फिर उसने मुझसे कहा कि किसी को कहना मत। फिर मैंने उसको प्रॉमिस किया वापस चला आया ।।

धन्यवाद …