भाई के सामने भाभी का भोसड़ा चोदा

हैल्लो दोस्तों, मेरा Antarvasna नाम यश है, में गुजरात का रहने वाला हूँ। मेरी हाईट 5 फुट 7 इंच है और में गुजरात के राजकोट शहर में रहता हूँ। आज में आपको जो कहानी सुनाने जा रहा हूँ, वो मेरी और मेरे कज़िन और उसकी बीवी की है। यह बात आज से करीब 1 महीने पहले की है, मेरा कज़िन जिसका नाम नितिन और उसकी बीवी सरोज है, जो बहुत ही खूबसूरत है, उसके बूब्स बड़े-बड़े है और उसके लिप्स गुलाबी है। वो अपनी डॉक्टर के लिए राजकोट आए थे, तो तब मेरे घर पर कोई नहीं था। फिर उसकी तबीयत दिखाने के बाद हम घर पर गये, तो तब करीब शाम के 7 बजे थे। फिर रात को खाना खाने के बाद भाभी ने कहा कि में अपना गाउन लाना भूल गयी हूँ, क्या घर में कोई गाउन है? तो मैंने उसको एक गाउन निकालकर दे दिया। मैंने जानबूझकर पारदर्शी गाउन निकाला था और फिर में अपने रूम में चला गया।

फिर जब वो गाउन पहनकर आई, तो मुझे उसके बड़े-बड़े बूब्स दिखाई दे रहे थे, उसने अंदर ब्रा भी नहीं पहनी थी, जिससे उसकी निपल भी साफ़-साफ़ दिख रही थी। अब में तो उसको देखता ही रह गया था और मेरा लंड भी खड़ा हो गया था। अब में तो उसे देखता ही जा रहा था, लेकिन मेरे कज़िन की नजर मुझ पर थी। फिर जब मैंने उसकी तरफ देखा, तो वो हंसने लगे, तो में शर्मा गया। फिर भाभी ने मेरे भाई और उसका बिस्तर नीचे लगाया और में उसके बिस्तर के पास पलग पर लेट गया और फिर हम टी.वी देखने लगे। फिर थोड़ी देर के बाद भाई ने लाईट ऑफ कर दी और हम सोने लगे। फिर करीब 15 मिनट के बाद मुझे कुछ आवाज़ सुनाई दी तो मैंने देखा तो मेरा भाई भाभी के बूब्स पर अपना हाथ फैर रहा था और भाभी भाई के लंड को सहला रही थी, जो चादर के ऊपर से साफ-साफ दिख रहा था और मेरी भाभी आवाजे निकाल रही थी।

Antarvasna Hindi Sex Story  बहन की चूत को गुलाम बनाया

फिर भाई ने भाभी का गाउन ऊपर किया और उसकी चूत पर अपना एक हाथ फैरने लगे और उसकी गांड पर भी अपना हाथ फैरने लगे। फिर तभी भाभी के पीछे से चादर निकल गयी और मुझे भाभी की गांड और उसके नंगे पैर दिखाई देने लगे, क्या गोरे-गोरे पैर थे? और क्या मोटी गांड थी? अब मेरा लंड 8 इंच का लंड तो टाईट हो गया था और फिर में अपने लंड को सहलाने लगा। फिर मैंने अपना एक हाथ भाभी की गांड पर रख दिया, क्या मुलायम गांड थी? अब मेरा तो लंड फनफना रहा था। फिर में धीरे-धीरे उसकी गांड पर अपना एक हाथ फैरने लगा, लेकिन भाभी ने कुछ नहीं बोला, तो मेरी हिम्मत बढ़ गयी। अब में धीरे-धीरे उनकी गांड को दबाने लगा था और मेरा भाई उसकी चूत पर अपना एक हाथ फैर रहा था। दोस्तों ये कहानी आप चोदन डॉट कॉम पर पड़ रहे है।

फिर तभी मेरे भाई का हाथ पीछे आया और मेरे हाथ से टकरा गया, तो मैंने डर के मारे अपना हाथ हटा लिया और में घबरा गया। अब मेरा लंड भी ढीला हो गया था, लेकिन तभी मेरे भाई ने कहा कि यश तुम भी हमारे साथ नीचे आ जाओ। अब में तो खुश हो गया था और धीरे से भाभी के पीछे सो गया। अब भाई ने भाभी के ऊपर से चादर हटा दी थी और उसको किस करने लगे। अब मेरा तो लंड पूरा टाईट हो गया था। अब भाभी सीधी सो गयी और मेरी तरफ देखकर मुस्कुराने लगी थी और मेरी पेंट की चैन खोलकर मेरे लंड को सहलाने लगी थी और मेरे भाई से बोली कि यश का लंड तो देखो कितना बड़ा और मोटा है? तो मेरे भाई ने देखा और बोला कि ये तो मुझसे भी बड़ा है। फिर भाभी ने मेरे पूरे कपड़े निकाल दिए और भाई के भी कपड़े निकाल दिए और फिर भाई ने भाभी का गाउन निकाल दिया। अब हम तीनों पूरे नंगे थे। अब में तो भाभी के बूब्स देखता ही रह गया था, क्या मोटे-मोटे और गोरे-गोरे बूब्स थे? अब तो मेरा लंड फिर से लोहे की तरह सख्त हो गया था और अब में भाभी के बूब्स को दबाने लगा था, क्या सॉफ्ट बूब्स थे? बिल्कुल मखमल जैसे।

Antarvasna Hindi Sex Story  विधवा भाभी को बीवी बनाया

अब मुझे तो बहुत ही मज़ा आ रहा था और भाभी को भी बहुत मजा रहा था। अब में अपने एक हाथ से भाभी का एक बूब्स दबा रहा था और उनके एक बूब्स को भाई दबा रहा था और भाभी अपने मुँह से आवाजे निकाल रही थी उई माँ, आहह। फिर मैंने उसके बूब्स की बड़ी निप्पल को अपने मुँह में ले लिया और उस पर अपनी जीभ फैरने लगा। अब भाभी पूरी तरह से गर्म हो गयी थी और भाई भाभी के दूसरे बूब्स की निपल को अपने मुँह में लेकर चूस रहे थे। फिर भाभी ने भैया का लंड अपने मुँह में ले लिया और में भाभी की चूत को चाटने लगा, जो पूरी गीली हो चुकी थी। फिर मैंने उसकी पूरी चूत को अपने मुँह में लेकर उसकी चूत के छेद में अपनी जीभ डालने लगा और भाभी अपना एक हाथ मेरे सिर पर रखकर धक्का दे रही थी और मेरे भाई का लंड ज़ोर-ज़ोर से चूस रही थी।

फिर भाई ने अपना लंड भाभी की चूत में डाल दिया और मैंने अपना लंड भाभी के मुँह में डाल दिया था। अब भाभी तो मेरे लंड के सुपाड़े को अपने मुँह में डालकर चूसने लगी थी। फिर भाभी ने मेरा पूरा लंड अपने मुँह में डाल दिया और अंदर बाहर करने लगी थी। फिर थोड़ी देर के बाद भाई ने अपना पानी भाभी की चूत में ही छोड़ दिया और फिर वो दूसरे रूम में जाकर सो गये, लेकिन अभी भाभी की प्यास बुझी नहीं थी तो वो बोली कि मेरे यश आज तू अपनी भाभी की पूरी प्यास बुझा दे, तेरा बड़ा और मोटा लंड अपनी भाभी की चूत में डाल दे और मेरी चूत को फाड़ डाल। अब तो मुझे पूरा जोश आ गया था और फिर में अपना 8 इंच का लंड भाभी की चूत में डालकर ज़ोर-ज़ोर से धक्के देने लगा। फिर भाभी मेरे ऊपर आकर बैठ गयी और मेरा लंड अपनी चूत में डालकर ऊपर नीचे होने लगी और अपने मुँह से आवाजे निकाल रही थी आहह, उहह, क्या मस्त लंड है?

Antarvasna Hindi Sex Story  माँ के साथ लेस्बियन सेक्स किया

फिर मैंने भाभी को कुत्तिया की तरह कर दिया और पीछे से भाभी की चुदाई करनी चालू की और अपना पूरा लंड भाभी की चूत में अंदर बाहर करने लगा। फिर करीब आधे घंटे के बाद भाभी झड़ गयी और उसकी चूत से सफेद और चिकना पानी निकलने लगा। अब तो में और ज़ोर-ज़ोर से धक्के देने लगा था और फिर थोड़ी देर के बाद में भी झड़ गया। फिर भाभी ने कहा कि तुम्हारी जैसी चुदाई तो तुम्हारे भाई ने कभी नहीं की, में तो रोज प्यासी रह जाती थी, आज तुमने मेरी पूरी प्यास बुझा दी है। दोस्तों मिलने पर हम तीनों आज भी जमकर मजा करते है ।।

धन्यवाद …