बॉस ने मेरी माँ की चूत मारी

हैल्लो फ्रेंड्स.. में विक्की एक बार Hindi Sex Stories Antarvasna Kamukta Sex Kahani Indian Sex Chudai फिर से आप सभी के सामने यहाँ पर अपनी दूसरी स्टोरी लेकर आया हूँ. दोस्तों मेरी मम्मी बहुत चुदक्कड़ है और वो बहुत मर्दो से कई बार चुद चुकी है और मुझे उनकी चुदाई देखने में बहुत मज़ा आता है और मैंने खुद उनको कई मर्दो के साथ चुदते हुए देखा है. तो में आज आपको फिर से अपनी मम्मी के बारे में बता दूँ.. उनका नाम वर्षा है और इस बार उनकी चुदाई किसी और ने नहीं बल्कि मेरे बॉस ने की.. जिसका नाम राज शर्मा है और उससे पहले में आपको कुछ बातें विस्तार में बता दूँ. दोस्तों मैंने कुछ दिन पहले एक कंपनी में नौकरी करना शुरू किया है और मेरे वहाँ पर बॉस राज शर्मा है जिनकी उम्र 43 साल है.. मेरे बॉस मेरे काम से बहुत आकर्षित रहते है क्योंकि में अपनी टीम में सबसे ज्यादा और अच्छा काम करता हूँ.

फिर एक बार मेरे बॉस ने मुझे मेरे काम से खुश होकर रात को खाने पर अपने घर बुलाया और मैंने कहा कि में नहीं आ सकता. तो उन्होंने मुझसे पूछा कि क्यों भाई ऐसा क्या हो गया? तो मैंने उनको सब सच बता दिया और कहा कि मेरी मम्मी मेरे साथ में रहती है और में रात को खाना उनके साथ ही खाता हूँ. तो उन्होंने कहा कि ठीक है तुम उन्हे भी अपने साथ में ले आओ.. में और मेरी फेमिली भी इस बहाने से तुम दोनों से मिल लेंगे. तो मैंने कहा कि सर ठीक है और शनिवार को उनके यहाँ पर खाने का प्रोग्राम बन गया और मैंने अपने घर पर जाकर मम्मी से कहा कि बॉस ने हमे खाने पर बुलाया है.. तो मेरी मम्मी जल्दी से तैयार हो गयी. फिर शनिवार की शाम को मैंने 5 बजे ऑफिस से घर पर फोन किया और मम्मी से कहा कि आप तैयार हो जाना कहीं हम लेट ना हो जाए और में शाम को 7 बजे घर पर पहुंचा और देखा कि मम्मी तैयार हो गयी थी और सोफे पर बैठी हुई थी. उन्होंने नीले कलर की साड़ी पहन रखी थी.. मम्मी ने जो ब्लाउज पहन रखा था उसमे से उनकी छाती दिख रही थी.

फिर में अंदर गया और जल्दी से नहाकर तैयार होकर बाहर आया और मम्मी को कार में लेकर सर के घर चल दिया. एक घंटे के बाद उनका घर आया और बॉस की वाईफ ने दरवाजा खोला और हमे अंदर आने को कहा.. बॉस अपने रूम से बाहर आए और सोफे पर बैठकर हम बातें करने लगे. तभी बॉस मम्मी से मेरी तारीफ करने लगे और कहने लगे कि में टीम में सबसे अच्छा काम करता हूँ.. मम्मी मेरी तारीफ सुनकर बहुत खुश हो गयी. फिर मेरे बॉस की वाईफ खाना तैयार करने के लिए किचन में चली गयी और बॉस की बेटी जो की 5th क्लास में पढ़ती है मेरे साथ खेलने लगी और मम्मी और मेरे बॉस बातें करने लगे. तभी कुछ देर बाद खाना लग गया और हम खाना खाने लगे. फिर खाना खाने के कुछ देर बाद में और मम्मी वापस अपने घर आने के लिए कार में बैठे और घर की तरफ चल दिए. तो बीच में मम्मी ने मुझसे कहा कि तेरे बॉस बहुत अच्छे है.. मुझे मम्मी की बातों से समझ आ रहा था कि उनकी चूत गरम है और वो बॉस का लंड लेना चाहती है और ऐसा क्यों ना हो? मेरा बॉस एक 6 फिट का हट्टा कट्टा मर्द है. तो थोड़ी ही देर के बाद घर हम पहुंचे और में, मम्मी अपने कमरे में सोने चले गये.

फिर में सोमवार को ऑफिस गया तो बॉस ने मुझे अपने केबिन में बुलाया और पूछने लगे कि में कैसा हूँ? तो मैंने कहा कि में ठीक हूँ. फिर उन्होंने मेरी मम्मी के बारे में पूछा कि वो कैसी है? मैंने कहा कि वो भी ठीक है और वो मुझसे पूछने लगे कि तुम्हारे घर में और कौन है? और जब मैंने उन्हे बताया कि घर पर में और मम्मी अकेले ही रहते है तो उन्होंने बोला कि फिर तो तुम्हारी मम्मी पूरे दिन घर पर अकेली बोर हो जाती होंगी? तो मैंने कहा कि हाँ वो घर पर दिन भर अकेली रहती है और धीरे धीरे मुझे समझ में आ रहा था कि बॉस क्या चाहते है? कुछ दिनों तक बॉस मुझसे ऐसे ही बातें करते रहे. फिर वो दिन आ गया जिस दिन बॉस ने मुझसे खुलकर बात की और बदले में उन्होंने मेरे प्रमोशन की बात की और में सोचने लगा कि मुझे इससे अच्छा मौका नहीं मिलेगा? और मैंने कहा कि ठीक है मुझे कोई आपत्ति नहीं है.. लेकिन मैंने उससे पूछा कि यह सब कैसे होगा? तो उन्होंने कहा कि सब होगा बस तू मेरी बात मान ले और इस शनिवार को उनको लेकर मेरे घर पर आ जाना.

Antarvasna Hindi Sex Story  माँ की बहन को चोद डाला

तो मैंने कहा कि ठीक है और फिर मैंने ऐसा ही किया.. में जानता था कि आज मेरा बॉस मम्मी की चूत ले लेगा और मेरा प्रमोशन पक्का था और जब हम उनके घर पर पहुंचे तो मैंने देखा कि बॉस घर पर एकदम अकेला है. तो मम्मी ने पूछा कि उनकी वाईफ और बच्चे कहाँ है? उन्होंने कहा कि वो लोग नानी के घर गये है.. क्योंकि बच्चों के स्कूल में कुछ दिनों की छुट्टियाँ है तो वो लोग वहाँ पर मज़े मस्ती करने चले गये. फिर में समझ गया कि आज बॉस मम्मी की चूत फाड़ने वाला है और कुछ देर बाद बॉस ने ड्रिंक लगाई.. में और बॉस बैठकर ड्रिंक करने लगे. तो मम्मी वहीं पर हमारे पास में बैठी थी बॉस मम्मी को घूर घूरकर देख रहे थे और मम्मी भी बॉस की तरफ देख रही थी और फिर में समझ रहा था कि आग दोनों तरफ बराबर लगी हुई है. उस समय रात के लगभग 10 बज गये थे.. मम्मी ने मुझसे कहा कि चल विक्की रात हो गयी है और बॉस ने कहा कि विक्की ने ड्रिंक कर रखी है आज आप लोग यहीं पर रुक जाओ. तो मैंने भी मम्मी से यही कहा कि आज रात रुक जाते है.. मम्मी ने कहा कि ठीक.. लेकिन मुझे नींद आ रही है.

तो बॉस ने कहा कि ठीक है आप दूसरे रूम में जाकर सो जाइए और फिर मम्मी पास वाले रूम में सोने चली गयी और मम्मी के जाते ही बॉस ने कहा कि आज में तेरी मम्मी को चोदूंगा और मुझसे कहा कि तुम दूसरे रूम में चले जाना और वहीं पर सो जाना. तो मैंने कहा कि ठीक है और मैंने ऐसा ही किया.. उसके दो घंटे बाद बॉस ने कहा कि अब में जा रहा हूँ और बॉस उठकर उसी कमरे में घुस गया जिसमे मम्मी सो रही थी. में बाहर से देख रहा था मम्मी बेड पर सोई हुई थी और उनका पल्लू नीचे गिरा हुआ था और उनके बूब्स बिल्कुल तने हुए थे और बॉस जाकर उनके पास में बैठ गया और मम्मी को देखने लगा. तभी कुछ देर बाद उसने मम्मी के बूब्स पर हाथ रख दिया और धीरे धीरे सहलाने लगा और कुछ देर बाद उसने उनके ब्लाउज में हाथ घुसा दिया तो मम्मी उठ गयी और बहुत घबरा गयी.

तो उन्होंने पूछा कि आप यहाँ पर क्या कर रहे है? फिर उसने कहा कि तुम मुझे बहुत सुंदर लगती हो. फिर मम्मी ने कहा कि आप यह कैसी बातें कर रहे है? तो बॉस ने कहा कि इतना नाटक क्यों कर रही हो और में अच्छी तरह से जानता हूँ कि तुम भी वही चाहती हो जो में चाहता हूँ और उसने मम्मी के बूब्स पर फिर से हाथ रख दिए. तो मम्मी ने हाथ हटाया और कहा कि विक्की भी यहीं पर है.. उसने कहा कि अरे आप टेंशन मत लो उसने बहुत पी रखी है और वो सोने चला गया और अब बस में और आप ही है. फिर यह कहते ही बॉस ने मम्मी को अपनी तरफ खींच लिया और उनके होंठ पर किस करने लगा.. मम्मी ने भी उनको पकड़ रखा था और मज़े से होंठ किस कर रही थी. फिर बॉस ने मम्मी को खड़ा किया और उनकी साड़ी को उतार दिया और ज़मीन पर फेंक दिया..

वो मम्मी को किस करने लगा. उनके होंठ उनकी गर्दन पर किस करते हुए उनके बूब्स को ब्लाउज के ऊपर से मसल रहा था. तो मम्मी सिसकियाँ ले रही थी और बॉस ने मम्मी के ब्लाउज के सारे हुक खोल दिए और ब्लाउज निकाल दिया और उन्हें देखकर ऐसा लग रहा था जैसे मम्मी के बूब्स ब्रा फाड़कर बाहर आ जाएगें. फिर बॉस ने उनकी ब्रा के हुक को भी खोला और खींचकर बाहर निकाल दिया और मम्मी के गोल गोल बूब्स उनके सामने थे.. बॉस ने मम्मी के एक बूब्स को हाथ से पकड़ा और निप्पल मुहं में लेकर चूसने लगा और दूसरे बूब्स को दबाने लगा. तो मम्मी को धीरे धीरे मदहोशी छा रही थी और मुझे ऐसा लग रहा था कि आज बॉस मम्मी की निप्पल खा जाएगा. उसने मम्मी को बेड पर लेटा दिया.. मम्मी ने पेंटी नहीं पहन रखी थी.

Antarvasna Hindi Sex Story  मेरी फ्री सेक्स ट्यूशन क्लास

फिर बॉस ने मम्मी के पैरों फैला दिया और अब मुझे मम्मी की चूत साफ साफ दिखने लगी थी.. उनकी चूत पर झांट के छोटे छोटे बाल थे. फिर बॉस ने अपना हाथ उनकी चूत पर रख दिया और वो मुहं से सिसकियाँ लेने लगी.. तो उसने अपनी एक उंगली को मम्मी की चूत में घुसा दिया और फिर मम्मी थोड़ी उछल गयी. तो बॉस ने पूछा कि क्या हुआ? तो मम्मी ने कहा कि मुझे यहाँ पर ऐसा करने से दर्द होता है.. फिर बॉस ने अपनी दो उंगलियों को मम्मी की चूत में घुसा दिया और अंदर बाहर करने लगा. मम्मी उह्ह्ह माँ आआआ कर रही थी. बॉस अपने दूसरे हाथ से अपना लंड अंडरवियर के अंदर से सहला रहा था. फिर उसने अपनी अंडरवियर खोल दी और अपनी बनियान को भी उतार दिया और मेरी मम्मी के सामने नंगा हो गया. तो मम्मी बॉस का लंड बड़े ध्यान से देखने लगी.. उसका लंड 10 इंच का एकदम काला सा और बहुत मोटा था. फिर उसने मम्मी को बैठा दिया और खुद उनके सामने खड़ा हो गया.. मम्मी ने अपने हाथ से उसका लंड पकड़ा और सहलाने लगी.. कुछ देर में उसका लंड तनकर खड़ा हो गया तो मम्मी ने उसका लंड अपने मुहं में लिया और चूसने लगी.. बॉस धीरे धीरे सिसकियाँ लेने लगा और मम्मी ने धीरे धीरे उसका पूरा लंड अपने मुहं में ले लिया.

फिर बॉस ने उनके बाल पीछे से पकड़ लिए और जब बॉस ने अपना लंड उनके मुहं से बाहर निकाला तो उसका पूरा लंड थूक से भरा हुआ था. तो उसने मम्मी को अपनी तरफ खींचकर खड़ा कर दिया और उनको चूमने लगा.. अब वो मम्मी के पीछे आ गया और पीछे से उनके बूब्स पकड़ लिए और मसलने लगा और उनके पेट को सहलाने लगा. तो मम्मी ने अपना सीधा हाथ पीछे करके बॉस के बाल पकड़ लिए. फिर बॉस कभी मम्मी के निप्पल नोचता और कभी ज़ोर ज़ोर से मम्मी के बूब्स दबा रहा था और उसने धीरे से मम्मी के पेटीकोट का नाड़ा खोल दिया और उनके पेटीकोट को ढीला कर दिया और नीचे से कमर तक पेटीकोट को ऊपर कर दिया. तो मुझे मम्मी की गोरी गांड दिख रही थी.. बॉस अपने हाथ से मम्मी की गांड मसलने लगा. उसने मम्मी को थोड़ा झुका दिया और मम्मी ने अपने हाथ बेड पर रख दिए.. मम्मी की चूत पीछे से साफ साफ दिख रही थी.

तो बॉस उनके पीछे घुटनो के बल बैठ गया और दोनों हाथ से चूत को फैलाकर उनकी चूत को चाटने लगा और मम्मी अपनी कमर को हिला रही थी. फिर बॉस ने अपना एक हाथ अपने लंड पर रख दिया और सहलाने लगा. कुछ देर तक बॉस इसी तरह मम्मी की चूत चाट रहा था और अब बॉस खड़ा हो गया और उसने अपने लंड को मम्मी की चूत में सटा दिया और धीरे धीरे रगड़ने लगा. तभी उसने थोड़ा सा धक्का दिया तो उसका लंड मम्मी की चूत में चला गया.. बॉस ने मम्मी की कमर पकड़ ली और एक और ज़ोर का धक्का दिया. तो मम्मी के मुहं से चीख निकल गयी.. बॉस धीरे धीरे अपनी कमर को हिलाने लगा. मुझे उसका लंड अपनी मम्मी की चूत के अंदर बाहर होता साफ दिख रहा था. बॉस का लंड बहुत मोटा था शायद इसलिए मम्मी के मुहं से ज़ोर ज़ोर से चीख निकल रही थी और बॉस के हर धक्के पर मम्मी के बूब्स ज़ोर से हिल जाते और मुहं से आहह उफ्फ्फ माँ मरी की आवाज निकल रही थी और मम्मी भी अपनी चूत की चुदाई के मज़े ले रही थी.

फिर उसने मम्मी के बाल पकड़ लिए और अपनी तरफ खींचा मम्मी खड़ी हो गयी.. लेकिन बॉस ने अभी भी अपना लंड मम्मी की चूत में डाल रखा था और उन्हे चोद रहा था और मम्मी दर्द से चीख रही थी.. लेकिन बॉस को कुछ सुनाई नहीं दे रहा था क्योंकि उसने दारू पी रखी थी और उसे मेरी मम्मी में एक रंडी नज़र आ रही थी. फिर उसने अब मम्मी का एक पैर बेड पर रख दिया और फिर से उनकी चूत में लंड डालकर चुदाई करने लगा और फिर उसने मम्मी से कहा कि तेरी चूत जैसा मज़ा मेरी बीवी भी नहीं देती और धीरे धीरे मम्मी की चूत में लंड डालने लगा और कुछ देर तक ऐसा ही चलता रहा.

Antarvasna Hindi Sex Story  Hindi Sex Stories मदहोश सोना दीदी या भाभी

फिर उसने मम्मी को बेड पर लेटा दिया और मम्मी के दोनों पैर फैला दिए और खुद बेड पर घुटनों के बल बैठ गया.. उसने मम्मी की दोनों जांघे पकड़ ली और उनकी चूत में लंड डाल दिया और चोदने लगा. मम्मी ने अपने दोनों हाथों से बेड को पीछे पकड़ रखा था और उनके बूब्स चुदाई के हर धक्के के साथ हिल रहे थे. तो मम्मी ने कहा कि राज प्लीज जरा धीरे करो बहुत दर्द होता है.. लेकिन बॉस, मम्मी की कहाँ सुनने वाला था. वो तो मम्मी के ऊपर लेट गया और उनके दोनों बूब्स पकड़ लिए और एक बूब्स को चूसने लगा और मम्मी की चुदाई करने लगा. मम्मी अपने दोनों पैर इधर उधर फेंकने लगी. दोस्तों मुझे ऐसा लग रहा था कि आज बॉस मम्मी की चूत फाड़कर ही रहेगा. मम्मी अहह उफ्फ्फ आईई चिल्ला रही थी. तभी कुछ देर बाद बॉस हल्का पड़ गया और धीरे धीरे मम्मी को चोदने लगा उसने अपना वीर्य मम्मी की चूत में गिरा दिया.. बॉस मम्मी के पास में लेट गया और वो दोनों बातें करने लगे.. बॉस मम्मी को अपने सीने से चिपकाए हुये था.

फिर उसने मम्मी से दारू की बॉटल लाने को कहा.. मम्मी ने ऐसा ही किया. में तब तक दूसरे रूम में चला गया कि कहीं मम्मी मुझे देख ना ले और आधे घंटे बाद में वापस बाहर आया और फिर मैंने देखा कि बॉस उसी रूम में दारू पी रहा था और मम्मी उसके सामने नंगी बैठी हुई थी. तो बॉस ने मम्मी से कहा कि आज तूने मुझे बहुत खुश कर दिया है और में इसके बदले में विक्की को प्रमोशन दूँगा. तभी मम्मी ने कहा कि और मुझे क्या मिलेगा? तो उसने कहा कि बोल तुझे क्या चाहिए? लेकिन मम्मी ने कुछ नहीं कहा और बॉस ने कहा कि तू एक काम कर.. तू मेरी पर्सनल सेक्रेटरी बन जा. में तुझे खुश कर दूँगा तो मम्मी ने कहा कि नहीं में नौकरी नहीं करूँगी.. तो बॉस ने कहा कि तो फिर तू एक काम कर मेरी रंडी बन जा.. में तुझे चोदूंगा और बदले में तू जितना बोलेगी में तुझे दूँगा.

तो मम्मी ने कहा.. लेकिन विक्की को पता चल गया तो क्या होगा? तो उसने कहा कि तू उसकी चिंता मत कर.. में तुझे बाहर ले जाकर चोदूंगा. फिर में समझ गया कि अब बॉस मेरी मम्मी को अपनी रंडी बनाना चाहता है और में मम्मी को चहरे को देखकर समझ गया कि वो भी बॉस के साथ ही खुश है. फिर बॉस ने मम्मी को उल्टा लेटा दिया और मम्मी के दोनों पैर फैला दिए और अपना मुहं ले जाकर मम्मी की गांड के पास कर दिया और उनकी गांड सूंघने लगा और उसने अपनी दो उंगलियों से उनकी गांड के छेद को फैला दिया था और कभी अपनी नाक उसमे डालकर सूंघता तो कभी चाटता. फिर वो मम्मी के ऊपर लेट गया और अपना लंड लेकर मम्मी की गांड के छेद में डाल दिया और चोदने लगा.. मम्मी आगे की तरफ बढ़ रही थी और बॉस भी आगे के तरफ खिसक रहा था मम्मी की मुहं से चीख निकल रही थी आआआ उफ्फ्फ प्लीज थोड़ा धीरे करो.. में जाउंगी. तभी कुछ देर तक उसने ऐसे ही मेरी मम्मी की गांड मारी और फिर लंड बाहर निकालकर उनकी गांड के ऊपर ही अपना वीर्य गिरा दिया.

दोनों बहुत तक गये थे और अब में वहाँ से दूसरे रूम में सोने चला गया और उनकी चुदाई के बारे में सोचता रहा और फिर मुझे कुछ देर बाद नींद आ गयी. सुबह मेरी नींद 10 बजे खुली तो में दूसरे रूम की तरफ गया और मैंने देखा कि मम्मी और बॉस वैसे ही नंगे एक दूसरे से लिपटकर सोए हुए थे.. में गया और वापस से रूम में चला गया. मैंने अपना मोबाईल उठाया और देखा कि उसमें बॉस का एक मैसेज था. उन्होंने उसमे लिखा था कि में सुबह उठकर घर चला जाऊँ.. क्योंकि आज वो पूरे दिन मम्मी को अपने साथ रखना चाहता था. तो मैंने ऐसा ही किया. मम्मी रात के 9 बजे घर आई और बॉस उन्हे चोदने आए थे. वहाँ पर बॉस का काम हुआ और यहाँ पर मेरा.. बॉस ने ठीक वैसा ही किया जैसा बोला था. मुझे प्रमोशन मिल गया.. लेकिन साथ साथ बॉस ने मेरी मम्मी को अपनी रंडी बना लिया. कई बार उसने मेरी मम्मी को अपने दोस्तों से भी चुदवाया और अपना काम निकलवाया ..