बहन की चुदाई रात में

हैल्लो दोस्तों, मेरा नाम करण है और में चोदन डॉट कॉम पर आज अपनी पहली स्टोरी लिख रहा हूँ। अब में आपका ज्यादा टाईम ख़राब ना करते हुए सीधा अपनी स्टोरी शुरू करता हूँ। मेरी उम्र 19 साल है, में कॉलेज में पढ़ता हूँ और में एक पंजाबी लड़का हूँ। फिर एक दिन जब मेरे चाचा जी का लड़का घर आया हुआ था तो तब हम सब भाई बहन एक साथ मूवी देख रहे थे। तब वहाँ मेरे चाचा जी का लड़का और मेरी बुआ की लड़की, मेरी ताई जी की लड़की थी। फिर हम रात को 1 बजे तक मूवी देखते रहे तो मेरे चाचा जी का लड़का मूवी देखता-देखता बेड पर ही सो गया। अब मेरी बुआ की लड़की साईड पर लेटी हुई थी और में उनके बीच में और ताई जी की लड़की सोफे पर ही सो गई थी। अब में और बुआ की लड़की नहीं सोए थे, तो तब उसने कहा कि मुझको नींद आ रही है, तुम टी.वी बंद कर दो। फिर मैंने उठकर टी.वी बंद कर दी।

दोस्तों वो बहुत ही सुंदर और सेक्सी थी और जो भी उसको देखता तो उसका लंड खड़ा हो जाता था। फिर थोड़ी देर के बाद हम सो गये, तब मेरी बीच में ही नींद खुल गई तो मैंने उसकी तरफ अपना मुँह किया तो में उसकी चूचीयाँ को देखने लगा और उसे देखते-देखते ही मेरा मन उसको चोदने का करने लगा। फिर तब मैंने सबकी तरफ देखा तो सब सोए हुए थे, तो तब मैंने पहले अपना एक हाथ उसके ऊपर रखा और उसकी तरफ अपना मुँह किया तो उसने कुछ नहीं कहा। फिर में अपना एक हाथ उसके पेट पर फैरने लगा तो उसने मेरा हाथ उठाकर नीचे कर दिया और में दूसरी तरफ अपना मुँह करके सोने लगा तो उसके 10 मिनट के बाद वो तड़पने लगी। दोस्तों ये कहानी आप चोदन डॉट कॉम पर पड़ रहे है।

Antarvasna Hindi Sex Story  जहा मिला ओही चुदाई का खेल सुरु

अब उसने मेरे शरीर के साथ अपना शरीर टच कर दिया था। फिर जब मैंने उसकी तरफ अपना मुँह किया तो उसने कहा कि देख ले सब सो रहे है ना। फिर मैंने देखा कि सभी सो रहे है तो मैंने देर ना लगाते हुए उसकी चूचीयों को अपने हाथ से मसलने लगा और उसकी टी-शर्ट में अपना एक हाथ डालकर उसकी ब्रा ऊपर कर दी और उसकी टी-शर्ट को ऊपर करके उसकी चूचीयाँ अपने मुँह में डाल ली तो तब वो आआआहह ऊऊऊऊऊ करने लगी, अब वो बहुत गर्म हो चुकी थी। फिर मैंने उसका लोवर नीचे किया तो उसने पेंटी नहीं पहनी थी। फिर मैंने उसके लोवर को नीचा करके उसकी चूत में उँगलियाँ करने लगा, तो उसने मेरा 9 इंच का लंड अपने हाथ में ले लिया और उसने कहा कि में इसको अपने मुँह में लेना चाहती हूँ, तो मैंने कहा कि ले लो। फिर वो नीचे होकर मेरे लंड को चूसने लगी और फिर वो चूसते-चूसते झड़ गई। फिर 10 मिनट की चुसाई के बाद उसने कहा कि अब डाल दो तो में अपना लंड उसकी चूत पर रखकर धक्के लगाने लगा और उसकी चूत बहुत टाईट थी तो उसको बहुत दर्द होने लगा। अब वो सिसकियाँ भर रही थी आआआआअहह, ऊऊऊऊओ सोनू में मर जाऊंगी, बस कर। फिर में जोर-ज़ोर से धक्के लगाने लगा तो मेरा पूरा लंड उसकी चूत में अंदर तक चला गया। अब वो मेरे लिप्स पर किस करने लगी थी। फिर उसने कहा कि अपना लंड बाहर निकालकर मेरी चूत को चाटो, तो में उसकी चूत को चाटने लगा, तो वो फिर से झड़ गई। फिर तब मैंने अपना लंड बाहर निकालकर उसकी चूत में डाल दिया, तो उसने कहा कि अब कुछ मत कर ऐसे ही अंदर रहने दे। फिर मैंने उसकी गांड में अपनी उंगली डाल दी, तो उसने कहा कि नहीं बस नहीं, तो फिर में धक्के लगाने लगा। अब वो सिसकियाँ भर रही थी, अब उसकी आवाज ना निकले इसलिए में उसके लिप्स पर किस कर रहा था। अब में करीब 20 मिनट से लगातार उसकी चूत में धक्के लगा रहा था, अब में भी झड़ने वाला था तो मैंने उससे कहा कि कहाँ निकालूं? तो उसने कहा कि में मुँह में लेना चाहती हूँ और फिर वो नीचे हो गई, तो मैंने मेरा सारा स्पर्म उसके मुँह में ही गिरा दिया, तो वो मेरा सारा वीर्य चाट गई। अब उसके बाद वो मेरे लंड को ऐसे चाट रही थी जैसे कोई लॉलीपोप चूस रहा हो। अब उसके बाद से आज तक में उसकी चुदाई कर रहा हूँ और खूब मजे ले रहा हूँ ।।

Antarvasna Hindi Sex Story  मामाजी के अनुभवी लंड मेरी चूत को मिला

धन्यवाद …