आंटियों के बाद डोली की चूत

antarvasna antarvassna Indian Sex Kamukta आंटियों को शंकर साथ नंगा देख के डोली के तो होश ही उड़ गए. वैसे वो कुछ बोलने की भी स्थिति में नहीं थी. क्यूंकि वो खुद अपने छेद की खुजली यही नौकर शंकर के लंड से सही करवाती थी. शंकर अपने लंड को हाथ में ले के खड़ा था; उसने श्यामा आंटी की गांड से लंड निकाल लिया था. रमोला और श्यामा आँखे फाड़ के डोली को देख रही थी.
चुप साली रंडी, मैं तुझे बहुत बार चोद चूका हूँ

तभी शंकर ने बम फोड़ा, “चल अब ज्यादा नाटक मत कर साली, तू भी तो मुझ से चुदती हैं जब घर में कोई नहीं होता हैं…!”

रमोला आंटी बोली, “क्या बकवास कर रहा हैं तू शंकर?”

“जी हाँ मेमसाब बहुत बार पेला हैं हमने डोली मेडम को भी.”

डोली वही के वही खड़ी रह गई. शंकर अपने लंड को हाथ में नचाते हुए बोला, “चलो तुम भी कपडे निकालो साथ में पेलूँगा तीनो को मैं.”

डोली को थोड़ी झिझक हुई की वो कैसे अपनी माँ के सामने चुदवा सकती हैं. लेकिन रमोला और श्यामा आंटी को ऐसा कोई गुमान नहीं था. वो दोनों तो अपने घुटनों के ऊपर बैठ के शंकर के लंड को फिर से चाटने लगी. डोली ने भी अपनी जींस उतारी और वो भी घुटनों पर आ बैठी. शंकर के लौड़े को अब तिन तिन हॉट औरतें चाट रही थी. उसका लंड कम्पन कर रहा था लेकिन अभी भी उसमे बहुत जान बाकी थी. रमोला आंटी ने अपने मुहं से लंड निकाल के डोली के मुहं में दे दिया. अब माँ बाल्स चूस रही थी और बेटी ने लंड मुहं में भरा हुआ था. श्यामा आंटी ने डोली के बड़े बूब्स अपने हाथ में लिए और वो उसे जोर जोर से दबाने लगी. डोली के मुहं से सिसकियाँ निकल रही थी. उधर रमोला आंटी भी अपने बूब्स खुद अपने हाथ से ही मरोड़ने लगी. वो निपल्स को ऊँगली से ऐसे दबा रही थी जैसे उसमे से दूध निकालना हो. आह आह की आवाज से कमरा वापस गूंज उठा.

Antarvasna Hindi Sex Story  शादीशुदा औरत को चोदकर माँ बनाया

शंकर अब डोली को चोदने का मन बना चूका था. उसने अपने लंड को इन रंडियों के पास से हटाया और डोली की और डेक के बोला, “चलो तुम टाँगे खोलो अपनी, मैं तुम्हे बहुत दिन से नहीं चोदा हूँ.”

डोली उठी और उसने अपनी जांघे खोली निचे लेट के. शंकर चढ़ गया उसके ऊपर. डोली ने अपने गोरे हाथ से शंकर के लौड़े को अपनी चूत पर सेट किया. शंकर ने जैसे ही एक झटका मारा डोली के मुहं से अह्ह्हह्ह्ह्ह निकल पड़ा. तभी श्यामा आंटी डोली के मुहं पर बैठ गई. डोली आंटी की चूत में जबान डाल के चाटने लगी. श्यामा अपनी गांड को आगे पीछे कर के चूत को डोली के मुहं पर रगड़ रही थी. पूरा कमरा सेक्स की फच फच आवाज से भरा हुआ था क्यूंकि शंकर अपने लंड को डोली की चूत में बड़ी ही सेक्सी गति से ठोक रहा था. डोली की चूत बाकी दोनों से जवान थी इसलिए उसे भी चुदाई का मजा ज्यादा आ रहा था.
डोली की चूत और गांड में लंड

Antarvasna Hindi Sex Story  Antarvasna सेक्स एनकाउंटर

डोली श्यामा आंटी की चूत के छेद में जबान डाल के चाटने लगी थी अब. आंटी को भी मजा आ रहा था चूत चटवा के. रमोला आंटी भी अब उठ खड़ी हुई और उसने अपनी चूत को श्यामा आंटी के सामने रख दिया. श्यामा आंटी अपनी सहेली की चूत को चाटने लगी. उधर शंकर अभी भी डोली की चूत में अपने झटके जोर जोर से मारता जा रहा था. डोली की चूत में उसका लौड़ा पूरा अंदर घुस के बहार आ रहा था. डोली तृप्त हो गई थी शंकर की जोरदार चुदाई से.

शंकर ने अपना लंड डोली की चूत से निकाल दिया. और फिर उसने डोली को उल्टा दिया.

“अब मैं तेरी गांड मारूंगा डोली….!” शंकर ने लंड को अपनी उँगलियों से थूंक मलते हुए कहा.

डोली की चूत चुदने के बाद वो थक सी गई थी लेकिन शंकर गांड खोदने पर मक्कम था. डोली की गांड को उसकी माँ रमोला ने ही दोनों हाथ से फैला दिया. शंकर ने निचे झुक के गांड के छेद पर ढेर सारा थूंक दिया. फिर उसने अपने लंड को गांड पर रख दिया. डोली ने दोनों हाथ से कुल्हें फाड़े रखे थे. शंकर ने लंड सेट किया. थूंक की चिकनाहट की वजह से लंड गांड के छेद पर मजे दे रहा था. शंकर ने निचे हाथ डाल के डोली के बूब्स पकड लिए. फिर उसने एक झटका मारा और उसके लंड का सर गांड में घुस गया.

“उईई माँ माँ बहुत दर्द हो रहा हैं शंकर…..ईईइ ईईइ निकाल दो इसे..!” डोली के आवाज में बहुत दर्द था.

Antarvasna Hindi Sex Story  शादी से पहले चुदवाना पड़ा

शंकर ने उसकी कमर पर जोर से मारते हुए कहा, “मादरचोद अभी तो सिर्फ सुपाड़ा पेले हैं हम, अभी तो लौड़ा बहार ही हैं…!”

डोली सिहर उठी.

दुसरे ही पल शंकर ने और एक झटका मार दिया. अब की आधे से भी ज्यादा लंड गांड में घुस गया. डोली की आँखे फट गई, उसने पहले भी गांड मरवाई थी लेकिन शंकर का लंड आज जैसे तूफ़ान मचाये हुए था. डोली अपनी चूत को उँगलियों से सहलाने लगी और शंकर ने तीसरे झटके में लंड पूरा अंदर पेल दिया. डोली की चूत ने लंड पूरा घुसते ही पानी छोड़ दिया. रमोला आंटी फट से निचे आई और उसने डोली की चूत को चाट के पानी पी लिया.

शंकर अब डोली की गांड को खोदने लगा अपने लौड़े से. वो डोली को ऐसे ठोक रहा था जैसे उसके मुहं से लंड को बहार निकालेगा. डोली भी अपनी गांड को उचका उचका के मजे लेने लगी.

शंकर ने पुरे ५ मिनिट गांड मारी और फिर अपने लौड़े को बहार निकाला. डोली की चूत और गांड दोनों को उसने लाल कर दिया था. अभी भी शंकर की छुट नहीं हुई थी.

अब रमोला और श्यामा आंटी दोनों कुतिया बन के बैठ गई. शंकर बारी बारी दोनों को चोदने लगा. दोनों को १० मिनिट चोदने के बाद उसने लंड को अपने हाथ से हिलाना चालू किया. निचे डोली, रमोला और श्यामा मुहं खोल के बैठी थी. शंकर ने वीर्य निकाल के सब को थोडा थोडा मुहं में दे दिया…..!